नई दिल्ली।आनलाइन डेस्क। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के बेतुके बयानों के कारण उनका सभी जगह मजाक बनाया जा रहा है। अभी ताजा मामले में उनका एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें इमरान खान कहते हुए नजर आ रहे हैं कि पाकिस्तान में चुनाव का ऐलान जल्दी हो गया होता तो न ही बाढ़ आती और न देश का रुपया नीचे गिरता! इस बयान में उन्होंने देश के चुनावों को उन्होंने सीधे तौर पर बाढ़ और देश की खराब आर्थिक हालत से जोड़ दिया है।

हालांकि, ये पहली बार नहीं है जब इमरान खान ने अपना और अपने देश का मजाक खुद ही उड़वाया हो। इससे पहले भी इमरान खान मजाक का विषय बन चुके हैं। आइये आपको बताते हैं इमरान खान की ऐसी हरकतें और बेतुके बयान जिसे सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे।

Pakistan: अमेरिका दौरे पर पाकिस्तान के सेनाध्यक्ष जनरल बाजवा, बाइडेन प्रशासन के अधिकारियों से मिलने की संभावना

1- जब इमरान खान ने बताया जापान और जर्मनी एक ही सीमा करते हैं शेयर

25 अगस्त, 2019 को इमरान खान ईरान में कारोबारियों को संबोधित कर रहे थे। अपने संबोधन में इमरान खान ने एक ऐसी गलती की थी जिसका मजाक खुद पाकिस्तान की विदेश मंत्री हिना रब्बानी ने संसद में उड़ाया था। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर इमरान खान ने ऐसा क्या कहा था? तो हम आपको बताते है, इमरान खान ने अपने संबोधन में कहा था कि 'जापान और जर्मनी ने दूसरे विश्व युद्ध तक एक-दूसरे के लाखों नागरिकों की जान ली'।

दरअसल, जापान और जर्मनी की सीमा में करीब 5000 मील से ज्यादा का अंतर है। लेकिन ये बात शायद इमरान खान को नहीं पता थी। इस बयान के बाद इमरान खान का सोशल मीडिया पर जमकर मजाक बना था। इमरान खान के इस वीडियो को महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने भी शेयर किया था और कहा, 'भगवान आपका शुक्रिया कि ये सज्जन मेरे इतिहास या भूगोल के शिक्षक नहीं थे'। यहां देखें वीडियो

2- जब शंघाई सहयोग सम्मेलन में उड़वाया था अपना मजाक

13 जून, 2019 को किगिस्तान की राजधानी बिश्केक में शंघाई सहयोग सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस आयोजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत चीन और रूस के प्रधानमंत्री भी शामिल हुए थे। शंघाई सहयोग सम्मेलन की एक परंपरा है जिसके मुताबिक जब हर एक राष्ट्राध्यक्ष हॉल में प्रवेश कर रहा होता है तो उनके नामों की घोषणा की जाती है।

इस दौरान बाकी के राष्ट्राध्यक्षों को सम्मान के लिए खड़ा रहना पड़ता है कि लेकिन ये बात शायद इमरान खान को समझ नहीं आई। सभी राष्ट्राध्यक्ष परंपरा का पालन कर रहे होते हैं लेकिन इमरान खान अपनी कुर्सी पर बैठे रहते है। जब वह काफी देर तक नहीं उठते हैं तो वहां मौजूद अफसरों को इमरान खान को सूचित करना पड़ता है और तब वह खड़े होते हैं। लेकिन तब तक इमरान खान अपना मजाक उड़वा चुके होते हैं। यहां देखें वीडियो

जानिए- रूस ने अब यूक्रेन के किस इलाके से अपनी सेना को लिया वापस, क्‍या थी इसके पीछे की बड़ी वजह

3- पेड़-पौधे रात में छोड़ते हैं ऑक्सीजन

27 नवंबर, 2019 को इस्लामाबाद की एक यूनिवर्सिटी में इमरान खान कॉलेज के छात्रों को संबोधित कर रहे थे। इमरान खान कॉलेज में युवा वैज्ञानिक प्रतिभाओं की हौसला अफजाई कर रहे थे। इस दौरान इमरान खान ने अपने संबोधन में कहा, “हम सब जानते हैं कि पेड़-पौधे रात में ऑक्सीजन छोड़ते हैं।”

इमरान खान के इस बयान को पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के चीफ बिलावल भुट्टो ने शेयर किया और कहा कि हमारे प्रधानमंत्री की जनरल नॉलेज पर नोबेल पुरस्कार मिलना चाहिए। इमरान खान के इस बयान के बाद उनका संसद में भी मजाक उड़ाया गया था।

भारतीय सेना में शामिल लाइट काम्बैट हेलीकाप्टर LCH की किन खूबियों के चलते दुश्‍मन सेना में मची खलबली

Edited By: Nidhi Avinash

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट