पीटीआइ, इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तान के पूर्व तानाशाह जनरल परवेज मुशर्रफ को ऐसी बीमारी हुई है, जिसकी वजह से वह तेजी से कमजोर हो रहे हैं। ऐसे हालात में वह पाकिस्‍तान आने में सक्षम नहीं हैं। उनकी पार्टी के एक वरिष्‍ठ नेता ने बताया कि मुशर्रफ बिगड़ती हालत की वजह से अभी पाकिस्‍तान में देशद्रोह के मुकदमे की सुनवाई के लिए नहीं आ पाएंगे।

मुशर्रफ 75 साल के हो गए हैं और साल 2016 से दुबई में रह रहे हैं। उनकी पार्टी के नेता ने बताया कि मुशर्रफ को क्‍या बीमारी हुई है, इसका पता अभी तक नहीं लग पाया है। बता दें कि मुशर्रफ पर साल 2007 में संविधान को बर्खास्‍त करने के लिए देशद्रोह का केस चल रहा है।

2010 में मुशर्रफ द्वारा बनाए गए एक राजनीतिक दल अखिल पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एपीएमएल) के एक पूर्व अध्यक्ष मुहम्मद अमजद के मुताबिक, पूर्व राष्ट्रपति(मुशर्रफ) को नई अनिर्दिष्ट बीमारी के कारण हर तीन महीने में इलाज के लिए लंदन जाना पड़ता है। उन्‍होंने बताया, 'परवेज मुशर्रफ की रीढ़ की हड्डी में एक फ्रैक्चर था, जिसका उन्होंने अमेरिका में इलाज कराया था। लेकिन आजकल उनका एक अलग बीमारी के लिए इलाज किया जा रहा है। इसके लिए उन्‍हें हर तीन महीने के बाद लंदन जाना पड़ता है।'

अमजद ने बताया कि इस बीमारी के कारण मुशर्रफ की सेहत तेजी से गिर रही है। वह लगातार कमजोर हो रहे हैं। ऐसे में उनकी जिंदगी के साथ जोखिम नहीं लिया जा सकता है। उन्‍होंने बताया कि मुशर्रफ पाकिस्‍तान इस शर्त के साथ आ सकते हैं कि उन्‍हें ट्रायल के बाद देश छोड़ने की अनुमति मिले, ताकि वह अपना इलाज लंदन में करा सकें। साथ ही उन्‍होंने बताया कि मुशर्रफ को पाकिस्‍तान बुलाने के लिए पार्टी में विचार-विमर्श चल रहा है।

Posted By: Tilak Raj

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस