कराची (एएनआइ)। नए साल पर पाकिस्तान के खिलाफ ट्रंप के ट्वीट ने पड़ोसी मुल्क की तिलमिलाहट बढ़ा रखी है। पाकिस्तान की विदेश सचिव तहमीना जांजुआ ने एक जनवरी को किए गए ट्रंप के ट्वीट को मूर्खतापूर्ण बताया। जांजुआ ने कहावत का इस्तेमाल करते हुए ट्रंप के ट्वीट को खुद के मुंह में पैर डालने जैसा बताया।इंस्टीट्यूट ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में पाकिस्तान की विदेश नीति पर व्याख्यान देने पहुंचीं जांजुआ से ट्रंप के ट्वीट को लेकर सवाल पूछा गया।

बता दें कि सोमवार को ट्रंप ने अपने ट्वीट में कहा था कि अमेरिका ने मूर्खता से पिछले 15 सालों में पाकिस्तान को 33 अरब डॉलर से ज्यादा सहायता दी है। पाकिस्तान ने झूठ और धोखे के अलावा हमें और कुछ नहीं दिया। उन्होंने अफगानिस्तान को निशाना बनाने के लिए आतंकवादियों को सुरक्षित आश्रय दे रखा है। अब और सहायत नहीं। हालांकि, विदेश सचिव ने कहा कि पाकिस्तान और यूएस के बीच की साझेदारी जारी रहेगी। जांजुआ ने कहा हमें अमेरिका की ओर से की जा रही सभी बयानबाजी पर सटीक प्रतिक्रिया देने की आवश्यकता है।


बता दें कि गुरुवार को अमेरिका ने पाकिस्तान को सैन्य सहायता काटने की घोषणा की। अमेरिका ने कहा कि यह फैसला पाकिस्तान की ओर से आतंकवाद को रोकने के लिए आवश्यक कदम नहीं लिए जाने की वजह से लिया गया। अमेरिकी विदेश विभाग की प्रवक्ता हीथर नॉर्ट ने कहा कि जब तक पाकिस्तान अफगान तालिबान और हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ कार्रवाई नहीं करता तब तक प्रतिबंध लागू रहेगा।

यह भी पढ़ें: अमेरिका ने फिर पाकिस्‍तान को चेताया, कहा- सभी विकल्‍प रखे हैं मेज पर

 

 

Posted By: Nancy Bajpai