इस्लामाबाद, पेट्र। कश्मीर के मुद्दे पर सभी अंतरराष्ट्रीय मंचों पर मुंह की खाने के बावजूद पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा। कजाखस्तान में आयोजित एशिया में वार्ता और विश्वास निर्माण उपाय सम्मेलन (सीआइसीए) के विदेश मंत्रियों की छठी बैठक में भी पाकिस्तान ने कश्मीर का मुद्दा उठाया।

दुनिया के खूंखार आतंकियों को पनाह देने और अफगानिस्तान में तालिबान का खुलेआम समर्थन करने वाले पाकिस्तान ने दक्षिण एशिया में स्थायी शांति का राग अलापा है और इसे कश्मीर से जोड़ने की कोशिश की है। सीआइसीए की बैठक में अपने वीडियो संदेश में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि कश्मीर मसले का समाधान हुए बिना दक्षिण एशिया में स्थायी शांति संभव नहीं है।

गौरतलब है कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देता है। उसने कश्मीर के एक बड़े हिस्से पर अवैध रूप से कब्जा भी जमा रखा है और दुनिया के सामने भारत के खिलाफ जहर उगलता है। जबकि, भारत एक बार नहीं अनेकों बार कह चुका है कि जम्मू-कश्मीर उसका अभिन्न अंग है और पाकिस्तान को गुलाम कश्मीर को खाली करना होगा।

Edited By: Manish Pandey