इस्लामाबाद, एएनआइ। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को विदेश में इलाज कराने के लिए कई शर्तों के साथ अनुमति मिल गई है, लेकिन पाक सीनेट के चेयरमैन संजरानी ने पाक सरकार से सभी शर्तों को हटाने की मांग की है। मंगलवार को संजरानी ने पाकिस्तान सरकार से नवाज शरीफ को विदेश में इलाज कराने के लिए सभी शर्तों को हटाने की बात पूछी है और उनकी नाजुक स्थिति को ध्यान में रखते हुए, इलाज की सभी सुविधा प्रदान करने की इजाजत मांगी है। 

अपर हाउस (Upper House) में आग्रह किया कि नवाज शरीफ की हेल्थ को लेकर कोई भी राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए। नवाज शरीफ का विदेश में इलाज कराने का विषय अपर हाउस में सीनेटर जावेद अब्बासी ने उठाया था। उन्होंने अपने बयान में कहा कि  एक्ज़िट कंट्रोल लिस्ट (ECL) को असंवैधानिक बताते हुए शरीफ के नाम के लिए  7 बिलियन से अधिक का पक्का बॉन्ड जमा करने की सरकार की शर्त पर विचार किया गया।

उन्होंने बताया कि नवाज शरीफ पाकिस्तान में तीन बार प्रधानमंत्री पद पर रह चुके हैं। ऐसे में पंजाब सरकार ने उनकी गंभीर हालत को देखते हुए विदेश में इलाज कराने की सिफारिश की थी। पाकिस्तान सरकार ने शरीफ को विदेश में इलाज कराने के लिए चार हफ्ते में एक बार जाने की इजाजत दी है। शरीफ के परिवारवालों ने विदेश में इलाज कराने के लेकर पाक को पत्र लिखा था।

उसमें उन्होंने लिखा था कि शरीफ की तबीयत ठीक ना होने पर उन्हें इलाज के लिए लंदन जाने की इजाजत मिले। नवाज शरीफ भ्रष्टाचार के केस में 7 साल की सजा काट रहे हैं। इस दौरान उनकी तबीयत ठीक ना होने पर उन्हें  लाहौर के एक अस्पताल में भर्ती कराया था। उम्मीद की जा रही है कि शरीफ इस रविवार को इलाज के लिए पाकिस्तान से विदेश के लिए रवाना हो सकते हैं। 

Posted By: Pooja Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप