इस्लामाबाद, पीटीआइ। महंगाई और बेरोजगारी से जूझ रही पाकिस्तान की जनता वर्तमान सत्ता से मोह भंग होता नजर आ रहा है। इसलिए आजादी मार्च को जनता का समर्थन प्राप्त हो रहा है। लोग बड़ी संख्या में इसमें शामिल हो रहे हैं। वहीं विपक्ष भी इस मौके को इमरान खान के खिलाफ इस्तेेेेेमाल करने से नहीं चूक रहा है। इसी क्रम में पाकिस्तान में विपक्ष के नेता सज्जाद हुसैन ने शुक्रवार को कहा कि अब वक्त आ गया है कि पाकिस्तान के वजीरे आलम इमरान खान को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाया जाए। उन्होंने इमरान खान की सरकार को 'झूठी सरकार' बताते हुए आरोप लगाया कि इन्होंने 2018 के आम चुनाव में धांधली की जिसके कारण यह सत्ता में आई।

इसलिए अब वक्त आ गया है कि इमरान खान को बाहर का रास्ता दिखाया जाए। पाकिस्तान की बहुप्रचारित आजादी मार्च निकाल कर विरोध जताया जा रहा है। प्रभावशाली दक्षिणपंथी पाकिस्तानी धर्मगुरु मौलाना फजलुर रहमान की जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम-फजल के नेतृत्व में बहुप्रतीक्षित 'आजादी मार्च' गुरुवार को अपने अंतिम गंतव्य स्थल इस्लामाबाद तक पहुंच गया। बुधवार को लाहौर से यह निकला था। आजादी मार्च में शामिल लोगों का कहना है कि इमरान खान इस पद के लायक नहीं हैं उनको इस्तीफा देना चाहिए। 

इस आजादी मार्च में फैजल के अलावा पाकिस्तान मुस्लिम लीग के नेता नवाज, पाकिस्तान पीपुल पार्टी, आवामी नेशनल पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने बड़े पैमाने पर हिस्सा लेकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। सभी इमरान खान की पार्टी तहरीके इंसाफ को सत्ता से बाहर करना चाह रहे हैं। बता दें कि पाकिस्ता में लोग महंगाई से बुरी तरह परेशान हैं। हालिया सर्वे में भी लोगों ने कहा की देश की अर्थव्यवस्था और महंगाई से लड़ाई लड़ने में सरकार पुरजोर कोशिश नहीं कर रही है। इसी के मद्देनजर नेता लोग भी सड़कों पर उतरे हैं।

पाकिस्तान मुस्लिम लीग के नेता शहबाज शरीफ ने हजारों लोगों की भीड़ से कहा हम इमरान खान को चैन से नहीं बैठने देंगे। आपने कंटेनर पॉलिटिक्स की शुरुआत की। आप गलत बयानबाजी करते हैं मगर हम आपकी भाषा में आपको जवाब नहीं दे सकते हैं। इस तरह की धांधली के बावजूद राष्ट्र के हित के लिए हमने कहा कि हम अर्थव्यवस्था के चार्टर के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि इमरान खान ने हमारे ऑफर को अहंकार के साथ नकार दिया। 72 साल के इतिहास में हमने इससे खराब स्थिति नहीं देखी है।

Air pollution: प्रकाश जावड़ेकर का केजरीवाल को जवाब, कहा- पंजाब, हरियाणा के साथ दिल्ली भी जिम्मेदार

 

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस