ज्यूरिख (स्विट्जरलैंड), एएनआइ। पाकिस्तान, गुलाम कश्मीर का अस्तित्व मिटाने की कोशिश में जुटा है। यह आरोप यूकेपीएनपी के एक वरिष्ठ नेता ने मंगलवार को लगाया। यूनाइटेड कश्मीर पीपुल्स नेशनल पार्टी (यूकेपीएनपी) के प्रवक्ता नसीर अजीज खान का कहना है कि पाकिस्तान, गुलाम कश्मीर और गिलगिट-बाल्टिस्तान का अवैध रूप से विलय अपने नियंत्रण वाले पंजाब प्रांत में करने की साजिश रच रहा है। बता दें कि इस्लामाबाद के कब्जे वाले कश्मीर का प्रशासन चलाने के लिए राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और स्वतंत्र विधानसभा का प्रावधान है, लेकिन प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से पाकिस्तानी हुक्मरान ही यहां पर शासन करते हैं।

जम्मू-कश्मीर सरकार के सेवा और सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा 11 दिसंबर को जारी आदेश पर खान ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उनका कहना है कि इस्लामाबाद के इशारे पर गुलाम कश्मीर के तथाकथित राष्ट्रपति ने तत्काल प्रभाव से जम्मू-कश्मीर प्रबंधन समूह का नाम बदलकर जम्मू-कश्मीर प्रशासनिक सेवा (जेकेएएस) रखने का आदेश दिया है। यह आदेश गुलाम कश्मीर के प्रधानमंत्री फारुख हैदर खान के मुजफ्फराबाद में दिए गए उस भाषण के बाद जारी किया गया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि वे गुलाम कश्मीर के अंतिम प्रधानमंत्री हो सकते हैं।

नासिर अजीज के अनुसार, 'गुलाम कश्मीर के पीएम ने अपने उक्त भाषण में कहा था कि पाकिस्तानी प्रशासन ने उनसे स्पष्ट तौर पर कहा है कि वह पीओके के अंतिम प्रधानमंत्री हैं और उनके बाद इस क्षेत्र में कोई प्रधानमंत्री नहीं होगा।' अजीज ने कहा कि यह इस बात का स्पष्ट संकेत है कि पाकिस्तान गुलाम कश्मीर को पंजाब प्रांत और उसके कुछ हिस्से को खैबर पख्तूनख्वा में विलय करने की अवैध रूप से कोशिश कर रहा है। गिलगिट-बाल्टिस्तान के लिए भी पाकिस्तान ऐसी ही साजिश रच रहा है।

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस