इस्‍लामाबाद, एएनआइ। सिखों के पवित्र स्‍थान करतारपुर कॉरिडोर के बारे में पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक स्‍थानीय टीवी चैनल पर कहा है कि मैंने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को आमंत्रित किया था। मैं उनका धन्‍यवाद करता हूं कि उन्‍होंने मुझे पत्र लिखा और कहा कि मैं आउंगा, लेकिन मुख्‍य अतिथि के रूप में नहीं, बल्कि एक आम आदमी की तरह आउंगा। अगर वे आम आदमी की तरह आते हैं तो हम उनका स्‍वागत करेंगे।  

गौरतलब है कि करतारपुर कॉरिडोर को लेकर पाकिस्‍तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आया। उसने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रित करने के बजाय पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को आमंत्रित किया। हालांकि, मनमोहन सिंह ने पाकिस्‍तान के निमंत्रण को ठुकरा दिया है।

पाकिस्‍तान नहीं जाएंगे नेता 

कुछ दिनों पहले पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने साफ किया था कि पूर्व प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह और वे खुद करतापुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह के लिए पाकिस्तान नहीं जाएंगे। कैप्टन ने कहा कि वे सर्वदलीय जत्थे के साथ केवल कॉरिडोर से करतारपुर गुरुद्वारा जाएंगे और मनमोहन सिंह को भी इसी जत्थे के साथ जाने का उन्होंने न्योता दिया है।

उन्‍होंने कहा कि मनमोहन ने पंजाब सीएम के इस आमंत्रण को स्वीकार किया है न कि पाक के न्योते को। पाकिस्तान जाने की खबरों को खारिज करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कॉरिडोर से गुरुद्वारे जाने और पाकिस्तान जाने में बहुत फर्क है। कैप्टन ने गुरूनानक देव के 550वें प्रकाश पर्व समारोह के विशेष आयोजन के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी न्यौता दिया गया है। 

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप