कराची, प्रेट्र। बलूचिस्तान प्रांत में हुए एक बम धमाके में 35 वर्षीय पाकिस्तानी पत्रकार की मौत हो गई। इस हमले की जिम्मेदारी बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी ने ली है। डान न्यूज ने सोमवार को ईदगाह स्टेशन हाउस के अधिकारी नदीम हैदर के हवाले से बताया कि हमले में मारे गए पत्रकार शाहिद जेहरी मेट्रो 1 न्यूज के लिए काम करते थे। हमला उस समय हुआ जब वह रविवार को प्रांत के हब शहर में कार से कहीं जा रहे थे।

सीसीटीवी फुटेज में दिखाई देता है कि जेहरी की कार ने जैसे ही व्यस्त सड़क पर यू टर्न लिया, धमाका हो गया। देसी ग्रेनेड से हुए हमले में टीवी रिपोर्टर जेहरी समेत अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को स्थानीय अस्पताल में प्रारंभिक इलाज के बाद कराची स्थित नागरिक अस्पताल ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने पत्रकार को मृत घोषित कर दिया। डान के अनुसार, पाकिस्तान समाचार पत्र संपादक परिषद ने मीडिया फ्रीडम रिपोर्ट 2020 में कहा है कि वर्ष के दौरान कम से कम 10 पत्रकारों की हत्या हो चुकी है, जबकि सैकड़ों को धमकी और अपहरण जैसी वारदातों का सामना करना पड़ा है।

बलूचिस्तान के अलगाववादी समूह बलूच लिबरेशन आर्मी (बीएलए) ने सोशल मीडिया के माध्यम से हमले की जिम्मेदारी लेते हुए कहा कि रिपोर्टर उनकी जासूसी कर रहा था। स बीच, पाकिस्तान फेडरल यूनियन आफ जर्नलिस्ट (पीएफयूजे) ने शाहिद जेहरी की हत्या की कड़ी निंदा की। पीएफयूजे के अध्यक्ष शहजादा जुल्फिकार और महासचिव नासिर जैदी ने एक बयान में पत्रकार की निशाना बनाकर की गई हत्या के क्रूर कृत्य की निंदा करते हुए दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी का आह्वान किया।

Edited By: Arun Kumar Singh