इस्लामाबाद, एएनआइ। दा इंटरनेशल फेडरेशन ऑफ जर्नलिस्ट्स (IFJ) ने  व्हाइट पेपर ऑन ग्लोबल जर्नलिज्म में (White Paper on Global Journalism) 5 ऐसे देशों के नाम जारी किए हैं, जो पत्रकारिता करने के लिए असुरक्षित है। इस लिस्ट में पाकिस्तान का नाम भी शामिल है। रिपोर्ट में बताया गया कि वर्ष 1990 से 2020 में पाकिस्तान में 138 पत्रकारों की हत्या के मामले सामने आ चुके हैं। दा डॉन के मुताबिक,  वर्ष 1990 से 2020 तक 2,658 पत्रकार ड्यूटी के दौरान अपनी जान गंवा चुके हैं।

सबसे ज्यादा हत्या ईराक में हुई

इस लिस्ट में सबसे ऊपर इराक है। यहां पर 340 पत्रकारों की हत्या की जा चुकी है। वहीं इसके बाद मेक्सिको में 178 तो फिलिपिंस में भी178 पत्रकारों की हत्या के मामले दर्ज किए गए हैं। इसके बाद इस लिस्ट में पाकिस्तान का नंबर है। पाकिस्तान में भी 138 पत्रकारों की वर्ष 1900 से 2020 में हत्या की जा चुकी है। 

इस वर्ष इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ जर्नलिस्ट्स (IFJ) ने 15 देशों में 24 पत्रकारों की हत्या के मामले दर्ज किए हैं। सबसे ज्यादा पत्रकारों की हत्या के मामलों में इस साल लगातार चौथी बार मेक्सिको टॉप पर है। पांच सालों में यहां पर 13 पत्रकारों की हत्या के मामले दर्ज किए हैं। इस साल पाकिस्तान में 5, वहीं अफगानिस्तान, ईराक, नाइजीरिया में तीन-तीन पत्रकारों की हत्या के मामले दर्ज हुए हैं। वहीं फिलिपिंस, सोमालिया और सीरिया में 2-2 पत्रकारों की हत्या के मामले दर्ज हुए हैं। जबकि कैमरून, होंडुरास, पैराग्वे, रूस, स्वीडन और यमन में 1-1 पत्रकार की हत्या दर्ज हुई है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021