इस्लामाबाद,आइएएनएस। अंतरराष्ट्रीय मंचों पर किरकिरी और आर्थिक परेशानियों से जूझ रहे पाकिस्तान में पहले ही लोग महंगाई की मार झेल रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर पाक मंत्री भी ठीक से काम नहीं कर रहे हैं। तभी प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने मंत्रियों से जवाबदेही करना शुरू कर दिया है। खान के कार्यालय ने 27 मंत्रालयों को रिपोर्ट नहीं सौंपने के लिए रेड लैटर जारी किया है।

ये पहली बार है जब मंत्रालयो को रेड लेटर भेजा गया है। जियो न्यूज के मुताबिक मंत्रियों को कार्य करने की एक अंतिम चेतावनी जारी की गई है। जारी किया गया लेटर खान के मंत्रालय के कामकाज के प्रति नाराजगी दिखाना भी है।

पूरे नहीं किए गए दिए हुए काम
खान के कार्यालय द्वारा जारी की गई अधिसूचना के अनुसार यह पत्र प्रधानमंत्री के निर्देशों के तहत दिए गए कार्यों को पूरा ना करने में देरी के कारण जारी किया गया है। कार्यालय ने अब मंत्रालयों में हर स्तर पर वैकेंसी और पोस्टिंग जैसे मुद्दों की जानकारी देने के लिए 9 सितंबर की समय सीमा दी है। लेटर में उन अधिकारियों पर विवरण के लिए कहा गया है जो पदोन्नति के योग्य हैं, लेकिन फिर भी उनकी पदोन्नत नहीं हुई हैं।

सरकारी अधिकरियों के बारे में भी मांगी गई जानकारी
इसमें उन सरकारी अधिकारियों के बारे में भी जानकारी मांगी गई है, जिनके खिलाफ अनुशासनात्मक जांच तीन महीने से लंबित है। इसके अलावा, खान ने कारों, मशीनरी और अन्य वस्तुओं के बारे में विवरण भी मांगा है जो मंत्रालयों द्वारा उपयोग नहीं किए जा रहे हैं। रेड लेटर के जरिए यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि संबंधित मंत्रालय और इसके प्रभागों के प्रदर्शन की रिपोर्ट काम में आ सके।

ये भी पढें : विदेशियों को नहीं भा रहा पाकिस्‍तान, पर्यटन सेक्‍टर पर तगड़ी मार, 121वें पायदान पर पहुंचा

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप