इस्लामाबाद, एएनआइ। मीडिया को लेकर विदेश ही नहीं देश में भी इमरान सरकार का विरोध हो रहा है। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा है कि सरकार धमकी और दबाव के जरिये मीडिया का गला घोंट रही है। बिलावल ने कहा कि सरकार जनता से अपने गैर-कानूनी कामों, भ्रष्टाचार और अक्षमता को जनता से छिपाना चाहती है। इमरान सरकार ने अपने मुताबिक न बोलने वाले एंकरों और स्वतंत्र पत्रकारों को टीवी स्क्रीन से हटवा दिया, जो अब इंटरनेट मीडिया पर अपने विचार रख रहे हैं। बिलावल ने यह बात विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस पर कही।

बिलावल ने सरकार को चेतावनी दी कि स्वतंत्र मीडिया के दमन के कारण लोगों में असंतोष बढ़ रहा है और यह किसी समय फूट सकता है। उन्होंने कहा कि मीडिया को दबाव से मुक्त किया जाना चाहिए।

इधर पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के महासचिव अहसान इकबाल ने कहा है कि चुनावों में लगातार हार का सामना करने के बाद अब तहरीक ए इंसाफ पार्टी इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से चुनाव कराना चाहती है। उन्होंने कहा कि पिछले तीन साल में सत्ता पक्ष के जेहन में यह विचार नहीं था, लेकिन अब उप-चुनावों में लगातार हार के बाद यह निर्णय लेने पर विचार किया जा रहा है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021