इस्लामाबाद,पीटीआइ। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सरकार के साथ सैन्य टकराव की खबरों को निराधार बताते हुए कहा कि उनकी सरकार को सशस्त्र बलों को भरपूर सहयोग मिल रहा है। पाकिस्तान की सियासत में सेना का दखल जगजाहिर है।

पिछले शुक्रवार को इमरान सरकार के 100 दिन पूरे हो गए। इस दौरान उन्होंने कहा कि उनके सरकार के सभी मंत्रियों ने इतने दिनों का लेखा-जोखा दिया है और वे इसकी समीक्षा करेंगे। सोमवार को उन्होंने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि हम कैबिनेट में कुछ फेरबदल कर सकते हैं। मैंने सारे फैसले खुद लिए हैं और सभी को सेना से समर्थन मिला है। खान ने कहा कि आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा मेरे हर फैसले को मानते हैं और फिलहाल सेना उनके पार्टी के अध्यादेश से एकदम संतुष्ट है। 

पाकिस्तान आम चुनाव के दौरान विपक्षी पार्टियों ने आरोप लगाया था कि सेना एक योजनाबद्ध तरीके से इमरान को फायदा पहुंचा रही है। उन्होंने कहा कि फिलहाल हमारे बीच सबकुछ ठीक है और उन्होंने नवाज शरीफ सरकार के दौरान सेना के साथ रहे कई मुद्दों पर मतभेद का हवाला देते हुए कहा कि उनकी सरकार का सेना से कोई टकराव नहीं है।          

Posted By: Tanisk