इस्लामाबाद, प्रेट्र। पाकिस्तान में प्रधानमंत्री इमरान खान ने करीब दो साल के कार्यकाल में चौथी बार वित्त मंत्री को बदला है और शौकत तरीन को नया वित्त मंत्री नियुक्त किया है। पाकिस्तान में प्रधानमंत्री इमरान खान ने शौकत तरीन को नया वित्त मंत्री नियुक्त किया है। पेशे से बैंकर तरीन (68) पर देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की बड़ी जिम्मेदारी होगी। वह इससे पहले 2009-10 में भी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी की सरकार में देश के वित्त मंत्री रहे थे। लेकिन कुछ समय के बाद भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते उन्हें पद छोड़ना पड़ा था।

पाकिस्तान में शौकत तरीन फिर बने वित्त मंत्री

यह स्पष्ट नहीं है कि भ्रष्टाचार के मामलों की जांच करने वाली एजेंसी नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) में उन पर चल रहे मामले जारी हैं या वे खत्म हो चुके हैं। तरीन इस्लामाबाद में सिल्क बैंक की स्थापना के लिए भी जाने जाते हैं। वह पाकिस्तान के बड़े चीनी कारोबारी जहांगीर तरीन के रिश्ते के भाई हैं, जिनके खिलाफ इमरान सरकार ने कुछ हफ्ते पहले ही चीनी घोटाले के सिलसिले में जांच शुरू कराई है। इस चीनी घोटाले के चलते देश में चीनी की किल्लत पैदा हो गई थी और उसके दाम काफी बढ़ गए थे।

शौकत तरीन को हामद अजहर के स्थान पर वित्त मंत्री बनाया गया है। हामद को मार्च के अंतिम दिनों में ही डॉ. अब्दुल हफीज शेख के स्थान पर वित्त मंत्री बनाया गया था, जिन्हें महंगाई को काबू न कर पाने के चलते पद से हटाया गया था। शेख से पहले 2018 में असद उमर वित्त मंत्री थे। हामद अजहर के पास उद्योग और औद्योगिक उत्पादन मंत्रालय भी थे। उन मंत्रालयों का प्रभारी अब खुसरो बख्तियार को बनाया गया है।

विज्ञान से जुड़े मामलों के मंत्री फवाद चौधरी को सूचना मंत्री बनाया गया है जबकि शिब्ली फराज को विज्ञान मंत्री बनाया गया है। चौधरी इससे पहले 2018 में भी सूचना मंत्री रह चुके हैं लेकिन बाद में उनका मंत्रालय बदल दिया गया था। इमरान इससे पहले भी कई बार मंत्रिमंडल में फेरबदल करते रहे हैं। इसके चलते उन्हें विपक्ष की कड़वी टिप्पणियां झेलनी पड़ी हैं।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप