इस्लामाबाद, एजेंसी। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती से पहले ऐतिहासिक करतारपुर कॉरिडोर का औपचारिक उद्घाटन किया। हालांकि, इससे पहले का एक वीडियो वायरल है। यह पाकिस्तान के एक TV चैनल का वीडियो है। यह वीडियो इमरान खान के करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन करने से पहले का बताया जा रहा है। इसमें वह एक बस में अपने अन्य सहयोगियों के सफर कर रहे हैं। वीडियो में सबसे पहले इमरान का सहयोगी भारत-पाकिस्तान के गेट की तरफ देखते हुए कहता है कि हमारे गेट तो खुलें हैं और उनके(भारत) गेट बंद हैं।

इसके बाद इमरान खान पूछते हैं- मनमोहन आ गया। तो एक महिला मंत्री जवाब देती है- हां सिद्धू को रोक रखा था। इस पर इमरान कहते हैं- उसे (सिद्धू को) हीरो बनाएंगे। इस पर महिला मंत्री कहती है कि हां वो सारे चैनल की हेडलाइन बनेगी। बहरहाल यह वीडियो अब वायरल है।

इमरान खान ने शनिवार 9 नवंबर को लंबे समय से प्रतीक्षित पाकिस्तान के पंजाब प्रांत स्थित करतारपुर कॉरिडोर का शनिवार को उद्घाटन किया। बता दें कि सिख धर्म में श्री दरबार साहिब करतारपुर या करतारपुर साहिब का बहुत ही महत्व है। करतारपुर साहिब गुरुद्वारा पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के नारोवाल जिले में पड़ता है। गुरू नानक देव जी अपने जीवन के अंतिम 18 वर्षों तक करतारपुर में ही रहे। उन्होंने रावी नदी के तट पर करतारपुर बसाया था।

पाकिस्तान लगे 20 डॉलर

बता दें कि पाकिस्तान करतारपुर कॉरिडोर आने वाले श्रद्धालुओं से 20 डॉलर का शुल्क लेगा। पहले इमरान खान ने घोषणा करते हुए कहा था कि गुरुद्वारे आगे वाले तीर्थयात्रियों से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। तीर्थयात्रियों के लिए पासपोर्ट की अनिवार्यता को लेकर पाकिस्तान सरकार और वहां की सेना आमने-सामने दिख रहे हैं। पहले इमरान खान ने खुद ट्वीट कर कहा था कि करतारपुर आने वाले यात्रियों को पासपोर्ट की जरूरत नहीं होगी, लेकिन बाद में पाकिस्तान सरकार अपनी बात से मुकर गई। इमरान खान की बात को खारिज करते हुए पाक सेना कि तरफ से कहा गया कि हम सुरक्षा कारणों की बजह से पासपोर्ट में छूट नहीं दे सकते।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप