संयुक्‍त राष्‍ट्र, जेएनएन। Imran Khan in UN: पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को UNGA में एक बार फिर कश्‍मीर का राग अलापा और भारत के खिलाफ जहर उगला। यूएन के मंच से पूरी दुनिया को युद्ध की धमकी दी।  यहां पर उनका टाइम खत्‍म हो चुका था, इसके बाद भी वह बोले जा रहे थे। यहां तक कि उनका सायरन भी बज चुका था। उसके बाद भी मंच से हटने के लिए तैयार नहीं थे। पीएम नरेंद्र मोदी ने जहां अपना भाषण 17 मिनट में दिया, वहीं पाकिस्‍तान के पीएम इमरान खान ने लगभग 56 मिनट समय लिया। जबकि भाषण देने के लिए 15-20 मिनट की समय सीमा निर्धारित थी।  

उनके भाषण के दौरान वहां लगी लाल रंग की बत्‍ती टिमटिमा रही थी, जो इस बात की ओर साफ इशारा कर रही थी कि पाकिस्‍तान के पीएम समय सीमा को लांघने के बाद भाषण दिए जा रहे थे। इतने समय में भी वह अपनी बात पूरी नहीं कर सके। उनके भाषण से लग रहा था कि अभी नहीं तो कभी नहीं।    

पिछले कई दिनों से अलग-अलग मंचों से इमरान खान यही राग अलाप रहे हैं। जबकि आज ही अमेरिका ने इमरान खान को बार-बार कश्‍मीर का नाम लेने पर लताड़ लगाई।

उसने कहा है कि पाकिस्‍तान का मुसलमानों को लेकर दोहरा रवैया उजागर है। उसे चीन में 10 लाख से ज्‍यादा उइगर मुसलमानों का उत्‍पीड़न दिखाई नहीं देता है। चीन ने 10 लाख से ज्यादा उइगर मुसलमानों को नजरबंद रखा है। अमेरिका ने बार-बार उइगर मुसलमानों के उत्‍पीड़न का मामला उठाया है। कश्‍मीर के जरिए पाकिस्‍तान का प्रोपगंडा उजागर हुआ है।

हालांकि भाषण से पहले इमरान खान ने कह दिया था कि संयुक्‍त राष्‍ट्र जनरल एसेंबली में कश्‍मीर को लेकर खास उम्‍मीद नहीं है। वह यूएन में अपने भाषण के जरिए कुछ भी पूरा करने के बारे में "आशावादी" नहीं है, जहां वह कश्मीर की स्थिति के बारे मे बताएंगे।

यह भी पढ़ें : PM Narendra Modi Speech in UN- पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

यह भी पढ़ें : जानिए कौन हैं कवि कनियन पुंगुनद्रनार, PM Modi ने UNGA में दोहराई जिनकी पंक्तियां

यह भी पढ़ें : Modi In UN: 17 मिनट में पीएम ने उठाए 17 मुद्दे, विशेषज्ञों से जानें उसके पीछे का संदेश

UNGA की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप