पेशावर, पीटीआइ। पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के सदस्यों ने रक्षा बंधन के त्योहार को COVID-19 महामारी के कारण प्रतिबंधों के बीच सादगी से मनाया है। पेशावर छावनी के काली बाड़ी मंदिर में आयोजित एक कार्यक्रम में लोगों के एक छोटे समूह ने भाग लिया, जहां महिलाओं ने प्रांतीय विधानसभा (एमपीए) के एक ईसाई सदस्य विल्सन वज़ीर की उपस्थिति में अपने भाइयों की कलाई पर राखी बांधी। अधिकांश लोगों ने कोरोना वायरस भय के कारण अपने घरों पर त्योहार मनाया।

खैबर पख्तूनख्वा विधानसभा में आदिवासी जिलों से अल्पसंख्यक समुदाय के पहले सदस्य वजीर ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी समाप्त होने पर सभी त्योहार उत्साह के साथ मनाए जाएंगे। बता दें कि पाकिस्तान में कोरोना वायरस से कम से कम 6,014 लोगों की मौत हो चुकी है और देश में 281,136 लोग संक्रमित हो चुके है। इनमें 254,286 लोग पूरी तरह से ठीक हो गए हैं जबकि 872 गंभीर हालत में हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस