इस्लामाबाद, एएनआइ। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को अल-अजीजिया मामले में इस्लामाबाद उच्च न्यायालय से जमानत मिल गई है। नवाज शरीफ को यह जमानत मेडिकल ग्राउंड के आधार पर दी गई है। पाक पूर्व पीएम को न्यायलय ने मंगलवार तक जमानत दी है। नवाज शरीफ भ्रष्टाचार से जुड़े अल-अजीजिया स्टील मिल मामले में सात साल की सजा काट रहे थे।

बता दें कि अस्पताल में भर्ती पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को हार्ट अटैक आने का दावा किया गया है। उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। यह दावा शनिवार को पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार हामिद मीर और शरीफ के वकील ने किया। जबकि अस्पताल प्रशासन ने इस दावे को खारिज करते हुए बताया कि शरीफ को उपचार के दौरान एंजाइना अटैक से जूझना पड़ा था। 

माइनर हार्ट अटैक आने का दावा

एंजाइना अटैक हृदय में रक्त के बहाव में कमी आने से होने वाला सीने का दर्द है। तबीयत बिगड़ने पर शरीफ को लाहौर हाई कोर्ट ने शुक्रवार को जमानत पर रिहा किया था। मीर ने ट्वीट के जरिये बताया, 'लाहौर के सर्विसेज अस्पताल में पूर्व प्रधानमंत्री शरीफ को दिल का दौरा पड़ा। डॉक्टरों ने बताया कि वह बच गए हैं, लेकिन कमजोरी महसूस कर रहे हैं।' इसके पहले शरीफ के वकील ख्वाजा हैरिस ने भी पूर्व प्रधानमंत्री को माइनर हार्ट अटैक आने का दावा किया था। 

शरीफ के प्लेटलेट्स हुए कम

समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार, सर्विसेज इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज अस्पताल के प्रमुख डॉ. महमूद अयाज ने बताया कि शरीफ को शनिवार सुबह एंजाइना अटैक का सामना करना पड़ा था। उन्होंने उन खबरों को भी खारिज किया, जिसमें 69 वर्षीय शरीफ को दिल का दौरा पड़ने का दावा किया गया।

अयाज ने पत्रकारों को बताया कि शरीफ के रक्त में प्लेटलेट्स बढ़ रहे हैं। पाकिस्तान के तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके शरीफ को सोमवार रात लाहौर की कोटलखपत जेल से सर्विसेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके रक्त में प्लेटलेट्स घटकर खतरनाक स्तर पर पहुंच गया था।

यह भी पढ़ें: धमकियों के बावजूद बाजारों में बढ़ी रौनक, लाल चौक पर लगे जाम ने दिया आतंकियों को जवाब

यह भी पढ़ें: चीन में बेटे को मां-बाप के तोहफे ने बनाया अरबपति, दुनिया के सबसे धनी लोगों में हुआ शुमार

 

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस