लाहौर,एजेंसी। Earthquake in Pakistan, दो दिन पहले मंगलवार को आए भूकंप से पाकिस्तान के लोग अभी ठीक तरह से उभरे भी नहीं थे कि आज एक बार फिर लाहौर में भूकंप के झटके महसूस किए गए। इससे यहां के लोग सहम गए हैं। भूकंप का केंद्र इस बार भी मीरपुर ही बताया जा रहा है। जानकारी अनुसार इस भूकंप में लगभग 32 लोग घायल हो गए हैं। ज्यादातर घायल लोग मीरपुर से हैं।    

जानकारी के अनुसार यह भूकंप भारतीयसमयानुसार दोपहर 12:31 बजे आया। इसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.7 बताई गई है। भूकंप के झटके गुलाम कश्मीर (PoK) समेत आसपास के इलाके में महसूस किए गए। अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण के मुताबिक भूकंप का केंद्र सतह से 10 किलोमीटर नीचे था। भूकंप ने गुलाम कश्मीर के निकटवर्ती शहर मीरपुर, झेलम और शेखपुरा शहर को दहला दिया। 

मंगलवार को आया था विनाशकारी भूकंप

बता दें कि गुलाम कश्मीर (POK) में मंगलवार को आए विनाशकारी भूकंप में मरने वालों की संख्या 38 हो गई है। घायलों की संख्या 452 बताई जा रही है। मरने वालों की संख्या में वृद्धि होने की आशंका है क्योंकि विभिन्न अस्पतालों में भर्ती करीब 100 घायलों की हालत नाजुक है। यह भूकंप 5.8 तीव्रता का था। इसका केंद्र मीरपुर शहर के समीप सतह से मात्र 10 किलोमीटर नीचे था। 

भारत में भी महसूस हुए थे झटके

यह झटके 8-10 सेकंड तक रहे, जो इस्लामाबाद, पेशावर, रावलपिंडी और लाहौर के प्रमुख शहरों सहित पूरे पाकिस्तान में जोरदार तरीके से महसूस किए गए थे। यही नहीं भूकंप के झटके इतने तेज थे कि इसे नई दिल्ली सहित भारत के उत्तरी हिस्सों में भी महसूस किया गया। 

पाकिस्तान में तबाही का मंजर

इस भूकंप से पाकिस्तान में तबाही का मंजर है। कई जगहों पर भूकंप से सड़कें टूट गईं और गाड़ियां पलट गईं। पाकिस्तान के मीरपुर में इससे सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। कई मकान गिरे हैं और कई जगहों पर सड़कें टूटी हैं। सड़कों पर दरारें इतनी चौड़ी हैं कि उसमें कार समा जाए। यही नहीं इससे मोबाईल फोन के टावर, बिजली के खंभे बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए।

इमरान ने जताया दुख

बता दें कि प्रधानमंत्री इमरान खान संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में हिस्सा लेने के लिए न्यूयॉर्क गए है। उन्होंने भूकंप में लोगों की मौत होने पर दुख प्रकट किया। उन्होंने सभी संबंधित विभागों को भूकंप प्रभावित क्षेत्रों में तत्काल सहायता पहुंचाने का निर्देश दिया।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान में भूकंप से मरने वालों की संख्या 38 पहुंची, मलबे में अभी भी कई लोग फंसे हैं

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप