इस्लामाबाद, रायटर। पूर्व प्रधानमंत्री और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआइ) पार्टी के प्रमुख इमरान खान के 'आजादी मार्च' को इस्लामाबाद पहुंचने से रोकने के लिए पाकिस्तान की पुलिस ने उनके समर्थकों पर आसूं गैस के गोले छोड़े, लाठी चार्ज किया और उनके कई समर्थकों को गिरफ्तार कर लिया। कई शहरों में पुलिस और इमरान समर्थकों के बीच संघर्ष भी हुए, लेकिन उनका काफिला बुधवार शाम बैरिकेड्स को हटाते हुए पंजाब प्रांत में दाखिल हो गया।

चुनाव कराने की मांग

इमरान नेशनल असेंबली भंग कर चुनाव कराने की मांग कर रहे हैं। पिछले महीने विश्वास मत हारकर सत्ता गंवाने वाले इमरान ने समर्थकों से इस्लामाबाद मार्च करने और नई सरकार भंग होने व चुनावों की तिथियां घोषित होने तक वहीं धरना देने का आह्वान किया है। समर्थकों समेत उन्हें इस्लामाबाद में दाखिल होने से रोकने के लिए राजधानी में प्रवेश और निकासी के मार्गों को ब्लाक कर दिया गया है।

कई शहरों में लगाई गई धारा-144

पंजाब प्रांत के प्रमुख शहरों से आने-जाने वाले सभी मार्गों को भी ब्लाक कर दिया गया है। लाहौर, कराची, रावलपिंडी और इस्लामाबाद समेत कई शहरों में धारा-144 लगा दी गई है। इसके बावजूद कई बड़े शहरों में इमरान समर्थकों और सुरक्षा बलों के बीच संघर्ष हुआ जिनमें बंदरगाह शहर कराची और पूर्वी शहर लाहौर शामिल हैं।

कई जगहों पर आगजनी, 1,700 लोग गिरफ्तार

कराची में पुलिस के साथ संघर्ष के बाद भीड़ ने कैदियों की एक वैन को आग लगा दी। वहीं, प्रदर्शनकारियों ने इस्लामाबाद में मुख्य सड़कों के किनारे कई पेड़ों को आग लगा दी। पुलिस ने अभी तक करीब 1,700 लोगों को गिरफ्तार किया है।

संसद के सामने जमे पीटीआइ कार्यकर्ता

बड़ी संख्या में पीटीआइ के कार्यकर्ता इस्लामाबाद में संसद के सामने डी-चौक पर जमा हो गए हैं। पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने के लिए आसूं गैस के गोलों का इस्तेमाल किया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। पीटीआइ कार्यकर्ताओं ने इस क्षेत्र पर कब्जा कर लिया है। इमरान ने इसी चौक पर धरना देने का एलान किया है।

पहले दी अनुमति, फिर वापस ली

शहबाज शरीफ के नेतृत्व वाली साझा सरकार ने इमरान की जल्द चुनाव की मांग ठुकरा दी है। सरकार ने कहा कि वह अपना कार्यकाल पूरा करेगी और चुनाव अगले साल ही होंगे। शरीफ सरकार ने पहले इमरान की पार्टी को विरोध मार्च की इजाजत दे दी थी, लेकिन रैली में हिंसा और अशांति की आशंका को देखते हुए मंगलवार को अनुमति वापस ले ली।

500 अंक गिरा सेंसेक्स

लाहौर में पीटीआइ प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच संघर्ष के बाद बुधवार दोपहर पाकिस्तान स्टाक एक्सचेंज में सूचकांक 572.63 अंक गिर गया। यह गिरावट करीब 1.37 प्रतिशत थी।

किसी तरह की डील से इन्कार

इमरान खान ने अपनी रैली में लोगों को बड़ी तादाद में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया है। उनका दावा है कि रैली में लाखों लोग जुटेंगे। साथ ही उन्होंने सरकार के साथ किसी तरह की डील की खबरों को खारिज करते हुए कहा कि इसका तो सवाल ही नहीं उठता। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज की उपाध्यक्ष मरयम नवाज ने भी इमरान की पार्टी के साथ किसी डील की खबर से इन्कार किया है।

Edited By: Krishna Bihari Singh