पेशावर, आइएएनएस। अफगानिस्तान ने शनिवार को पाकिस्तान के पेशावर में स्थित अपना वाणिज्य दूतावास बंद कर दिया। अफगानिस्तान ने यह फैसला वाणिज्य दूतावास पर लगातार हमलों के बाद सम्मान और सुरक्षा के कारणों से लिया।

पाकिस्तान ने अफगानिस्तान के फैसले पर अफसोस जताया

पेशावर पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की राजधानी है। पाकिस्तान ने अफगानिस्तान के फैसले पर अफसोस जताया है। कहा है कि जायदाद संबंधी विवाद के चलते अफगानिस्तान ने यह फैसला किया है।

पेशावर के दूतावास पर पाक पुलिस हमले कर रही है

वाणिज्य दूतावास को बंद करने के फैसले से पहले पाकिस्तान में मौजूद अफगानिस्तान के राजदूत शकूरउल्ला आतिफ मशाल ने कहा था कि पेशावर के दूतावास पर वहां की पुलिस हमले कर रही है। इसलिए अधिकारियों और कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ गई है।

संपत्ति को लेकर विवाद

स्थानीय न्यूज एजेंसी ने कहा है कि जायदाद के विवाद के चलते यह स्थिति पैदा हुई। जबकि अफगानिस्तानी दूतावास के अनुसार वाणिज्य दूतावास की जिस संपत्ति को विवादित बताया जा रहा था-वास्तव में उसका मालिकाना हक अफगान सरकार के पास है। पाकिस्तान के सरकारी महकमों की ओर से विदेशी दूतावास की संपत्ति को लेकर ऐसा बयान देना गैर-जिम्मेदाराना और अपमानजनक है।

दूतावास में लगा अफगानिस्तान का राष्ट्रीय झंडा पाक पुलिस उतार लेती थी

अफगान अधिकारियों के अनुसार आए दिन पाक पुलिसकर्मी वाणिज्य दूतावास में आते थे और उस पर लगा अफगानिस्तान का राष्ट्रीय झंडा उतारकर ले जाते थे। इस दौरान किसी अफगान अधिकारी की बात नहीं सुनी जाती थी। यह अफगानिस्तान का अपमान था, इसलिए सरकार की अनुमति से वाणिज्य दूतावास को बंद करने का फैसला किया गया। 

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप