इस्लामाबाद, पीटीआइ। क्रिकेट से राजनीति के मैदान में आए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान सियासत के रंग बदलने वाले खेल को भी समझ गए हैं। उन्होंने कहा- जो नेता समय पर यू टर्न (अपनी बात से पलट जाना) न ले, वह असली नेता नहीं हो सकता। इमरान अपने सरकारी आवास पर पत्रकारों से बात कर रहे थे।

अपने क्रिकेट जीवन के वाकये का जिक्र करते हुए इमरान ने कहा, हर मैच से पहले हम टीम के साथ बैठकर मैदान के लिए रणनीति बनाते थे लेकिन जब विरोधी टीम कुछ अलग करती दिखाई देती थी तो हम उस रणनीति को बदल लेते थे। अपनी बात को और बेहतर तरीके से रखने के लिए इमरान ने एडोल्फ हिटलर और नेपोलियन बोनापार्ट का भी उदाहरण दिया।

उन्होंने कहा, दोनों को कई बार केवल इस कारण से हार का मुंह देखना पड़ा क्योंकि उन्होंने दुश्मन के वार को देखते अपनी रणनीति में बदलाव नहीं किया। अपनी बात को और अच्छे तरीके से समझाते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा, अगर आप टहल रहे होते हैं और सामने दीवार आ जाए तो आप तुरंत अपना रास्ता बदल लेते हैं। यह भी यू टर्न है। इसी प्रकार से नेता अगर आवश्यकता और परिस्थिति के अनुसार यू टर्न (अपना निर्णय नहीं बदलता) नहीं लेता तो वह असली नेता नहीं।

इमरान ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के शुक्रवार को जवाबदेही अदालत में दिए बयान का जिक्र करते हुए कहा, वहां उन्होंने यू टर्न नहीं लिया बल्कि झूठ बोला। शरीफ ने अदालत में कहा है कि उन्होंने कतर के प्रिंस शेख हमाद बिन जासिम बिन जाबिर अल-थानी से धन का कोई लेन-देन नहीं किया। शरीफ इस समय भ्रष्टाचार के तीन मामलों का सामना कर रहे हैं।

Posted By: Ravindra Pratap Sing

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप