पेशावर, एएनआइ। पाकिस्तान के पेशावर में मंगलवार को एक विस्फोट की जानकारी मिली है। पेशावर के दिर कॉलोनी स्थित मदरसे में बम विस्फोट हुआ है। पाकिस्तान की न्यूज एजेंसी डॉन में प्रकाशित खबर के अनुसार, इस विस्फोट में 7 लोगों की मौत हो गई है और 70 जख्मी हैं। फिलहाल किसी आतंकी गुट ने हमले की जिम्मेवारी नहीं ली है। मिली जानकारी के अनुसार, इस हमले में पांच किलो विस्फोटकों का इस्तेमाल किया गया है।

पुलिस के अनुसार, जिस वक्त विस्फोट हुआ उस वक्त मदरसे में 40-50 बच्चे मौजूद थे। मदरसा प्रशासन ने बताया कि यहां करीब 1100 बच्चे पढ़ते हैं। खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री महमूद खान ने बच्चों पर हुए इस हमले की निंदा की। मुख्यमंत्री के सलाहकार कामरान बंगश ने कहा कि घटना की जांच होगी और दोषियों कों कड़ी सजा दी जाएगी। उन्होंने आगे कहा, 'जो आतंक फैलाना चाहते हैं वे कभी अपने मिशन में सफल नहीं होंगे। खैबर पख्तूनख्वा के स्वास्थ्य मंत्री तैमूर सलीम झांगड़ा ने घटना स्थल का मुआयना किया। उन्होंने बताया कि घायलों को बेहतर इलाज की सुविधा दी जा रही है ताकि वे स्वस्थ हो सके।

सीनियर सुप्रिटेंडेंट ऑफ पुलिस (Operations) मंसूर अमान (Mansoor Aman) ने विस्फोट की पुष्टि की और बताया कि इसके पीछे के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है। जांच जारी है। लेडी रीडिंग हॉस्पीटल के प्रवक्ता मोहम्मद आसिम ( Mohammad Asim) ने बताया कि अस्पताल में 7 मृत शवों को लाया गया और बच्चों समेत 70 जख्मी लोगों का इलाज किया जा रहा है। घायलों के इलाज के लिए स्वयं अस्पताल के डायरेक्टर इमरजेंसी वार्ड में मौजूद थे।

सीनियर पुलिस ऑफिसर वकार अजीम ने बताया, 'सेमिनरी में कुरान क्लास के दौरान यह विस्फोट हुआ। वहां कोई एक बैग लेकर गया था।' एक अन्य सीनियर पुलिस ऑफिसर मोहम्मद अली गंडापुर ने विवरण की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि जख्मी लोगों में से वहां पढ़ाने वाले दो शिक्षक हैं।  इस बीच SSP अमन ने जानकारी दी कि विस्फोट में IED का इस्तेमाल किया गया था। इलाके को पुलिस ने घेर लिया है और सबूत जमा करने में जुटी है।

पिछले हफ्ते बलूचिस्तान सरकार के प्रवक्ता लियाकत अली शाहवानी ने कहा कि आतंक रोधी ऑथोरिटी (Nacta) ने सिक्योरिटी अलर्ट जारी किया था जो क्वेटा और पेशावर में विपक्षी पार्टियों की होने वाली पब्लिक रैलियों को लेकर थी। इसमें संभावित विस्फोट के बारे में आगाह किया गया था।

बता दें कि पिछले माह खैबर पख्तूनख्वा के नौशेरा स्थित अकबरपुरा एरिया में विस्फोट हुआ जिसमें 5 लोगों की मौत हो गई थी और 2 जख्मी थे।  जिला पुलिस अधिकारी नजमल हसन ने घटना के बारे में बताया कि काबुल नदी के किनारे एक मार्केट में यह विस्फोट हुआ था। उन्होंने कहा, 'नदी के किनारे कुछ लोग रद्दी चुन रहे थे तभी वहां रद्दी के बीच मौजूद कचरे में विस्फोट हो गया।'

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस