इस्लामाबाद,आइएएनएस। पाकिस्तान में डेगू का कहर जारी है। लगातार डेंगू पीड़ितों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। पाकिस्तान में डेंगू के मरीजों की संख्या और 50,000 हो गई है। पाकिस्तान के स्वास्थ्य अधिकारी इससे निपटने में नाकाम साबित हो रहे हैं।  खबरों के अनुसार सबसे ज्यादा डेंगू पीड़ित रावलपिंडी और इस्लामाबाद में है। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि इन दोनों शहरों में पीड़ितों की संख्या 25,000 है। इस कारण अभी तक देश में 250 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। 

इस्लामाबाद में 8000 डेंगू के मरीज 

वहीं, इस्लामाबाद के दो सबसे बड़े शहरों में अकेले 8000 डेंगू के मरीज हैं। स्वास्थय विभाग के अनुसार रावलपिंडी में अब तक 35 लोग मर गए हैं। शुक्रवार को रावलपिंडी के मोरगा क्षेत्र में एक व्यक्ति की मौत हो गई। फिलहाल, दोनों शहरों के अलग-अलग अस्पतालों में 750 डेंगू के मरीजों का इलाज किया जा रहा है।

150 अधिकारी भी  डेंगू वायरस का हुए शिकार

कम से कम 150 कानून प्रवर्तन अधिकारी भी डेंगू वायरस के शिकार हुए हैं। पिछले हफ्ते, कराची में डेंगू से दो लोगों की मौत हो गई, महानगर में इस घातक बीमारी से 14 लोगों की मौत हो चुकी है। इसी का साथ  पंजाब में भी हजारों लोगों को डेंगू का परीक्षण होने पर नतीजा पॉजिटिव आया है। 

2011 में सामने आए थे सबसे अधिक मामले 

पाकिस्तान ने सबसे अधिक डेंगू के मामला 2011 में सामने आए थे। उस दौरान लगभग 27,000 लोग डंगू की चपेट में आए थे और 370 लोगों की मौत हो गई थी। 

इस तरह से करें डेगू से बचाव

डेंगू से बचने के लिए अपना घर के आस-पास सफाई रखें।साथ ही कहीं भी पानी ना इकट्ठा होने दें। सुबह शाम खुद भी और अपने बच्चों को भी पूरी बाजू के कपड़े पहनाएं। खिड़की और दरवाजों में जाली लगवाएं। इसके अलावा पानी की टंकी को ढक कर रखें। 

डेंगू के लक्षण

कई बार डेंगू होने पर हमे उसके बारे में पता नहीं चल पाता है। यदि आपको तेज बुखार, आंखों के पीछे दर्द और आंखों के हिलने से दर्द , जोडों में दर्द, चक्‍कर और उल्‍टी आना, सिर में आगे की तरफ तेज दर्द होता है तो हो सकता है आपको डेंगू हो क्योंकि, ये लक्षण डेंगू के हैं। 

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप