पेशावर, रायटर। लगातार दो दिन पाकिस्तान-अफगानिस्तान सीमा की पहाडि़यों पर अमेरिकी ड्रोन हमले में 31 लोग मारे गए। इनमें अधिकतर तालिबान आतंकी थे। मंगलवार को किए गए दो हमले में 11 लोगों की मौत हुई, जबकि एक दिन पहले हुए हमले में 20 लोग मारे गए थे। ये हमले तालिबान के ठिकाने को निशाना बनाकर किए गए। तालिबान के चंगुल से अमेरिकी-कनाडाई दंपती को पाकिस्तान के पश्चिमोत्तर इलाके से मुक्त कराने के बाद यह कार्रवाई की गई।

पाकिस्तान के अशांत क्षेत्र कुर्रम के शीर्ष प्रशासनिक अधिकारी बशीर खान वजीर ने बताया कि मंगलवार को मानवरहित चार ड्रोन ने छह मिसाइल दागी। उन्होंने कहा कि दो दिन में किए गए तीन हमलों में 31 लोग मारे गए जिनमें अधिकतर अफगान तालिबान थे। सभी हमले अफगान सीमा के अंदर किए गए। तालिबान सूत्रों कहा कि सोमवार के हमले में तालिबान से जुड़े पाकिस्तानी हक्कानी गुट के 18 आतंकी मारे गए। जबकि मंगलवार के एक हमले में छह आतंकी मारे गए। उन्होंने कहा कि हमले में कुछ कच्चे मकानों को निशाना बनाया गया जिनका इस्तेमाल अफगान तालिबान आतंकी करते थे। हमले के समय कोई बड़ा आतंकी इलाके में नहीं था। हालांकि तालिबान के एक अन्य सूत्र ने बताया कि सोमवार के हमले में दो तालिबान कमांडर मारे गए।

यह भी पढ़ें: IS से जुड़ी महिला स्पेन में गिरफ्तार, खतरनाक मिशन को देने वाली थी अंजाम

Posted By: Manish Negi