सिंगापुर, एएनआइ। भले ही इस कोरोना काल में दुनिया भर की हवाई उड़ानों पर काफी असर पड़ा है। लेकिन सिंगापुर एयरलाइन्स ने कोविड काल के दौरान दिसंबर माह में लगभग 6 लाख यात्रियों को हवाई सफर कराया है। अपने नवीनतम आपरेटिंग डेटा की रिपोर्ट में, गुड़गांव स्थित विस्तारा एयरलाइंस के सह-मालिक सिंगापुर एयरलाइंस ने इसका खुलासा किया है। रिपोर्ट के अनुसार दिसंबर माह में 6 लाख यात्रियों ने हवाई सफर किया है। इससे पहले बीते साल दिसंबर 2020 में 64,600 लोगों ने हवाई सफर किया था। इससे इस बात का संकेत मिला है कि कोविड-19 महामारी के बाद से हवाई उद्योग एक बार फिर से पटरी पर लौटने लगा है।

जानकारी के अनुसार, पिछले साल 26 नवंबर तक भारत, श्रीलंका और मालदीव सहित कुल 24 देश सिंगापुर वीटीएल कार्यक्रम के तहत शामिल हुए थे। वैक्सीनेटेड ट्रैवल लेन (वीटीएल) कार्यक्रम के तहत सिंगापुर ने कुछ देशों के यात्रियों के लिए क्वारंटीन पर पूरी तरह छूट दी है, जिन्होंने पूर्ण टीकाकरण करवा लिया है। हालांकि, उन्हें नियमित तौर पर टेस्ट करवाने की सलाह दी गई है। इनमें कतर, सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) को 6 दिसंबर से वीटीएल देशों के रूप में जोड़ा जाना था, लेकिन ओमिक्रान के बढ़ते मामलों के कारण यह व्यवस्था रोक दी गई थी। तब से, कोई अन्य देश को इसमें नहीं जोड़ा गया है। इसके अलावा सिंगापुर ने क्वारंटाइन फ्री ट्रैवल के एक कार्यक्रम के तहत 23 दिसंबर से अगले साल 20 जनवरी तक नई टिकटों पर रोक लगाने का एलान किया था। सरकार ने ओमिक्रोन के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर यह निर्णय लिया। इससे पहले वीटीएल देशों के 10,000 यात्रियों की दैनिक सीमा निर्धारित की गई थी, जो सिंगापुर में प्रवेश कर सकते हैं।

सिंगापुर एयरलाइंस (SIA) ने अपने दिसंबर 2021 के आंकड़ों के जारी होने के साथ अपने बयान में इस कोटा में कमी को स्वीकार किया। SIA ने कहा कि वह मौजूदा बाजार स्थितियों और नियमों के अनुसार अपने नेटवर्क का प्रबंधन करना जारी रखेगा। उन्होंने यह भी कहा कि 2022 के जनवरी और फरवरी के लिए यात्री क्षमता क्रमशः 47 फीसदी और पूर्व-कोविड स्तर के 45 प्रतिशत होने की उम्मीद करता है। दिसंबर 2021 के अंत में, SIA के यात्री नेटवर्क ने सिंगापुर सहित 85 गंतव्यों को कवर किया है, जो पिछले महीने के अंत की तुलना में 13 फीसदी अधिक है।

वहीं, फिलीपीन एयरलाइंस ने कहा है कि अमेरिकी अदालत द्वारा कर्ज में 2 बिलियन तक की कटौती की अपनी योजना को मंजूरी देने के बाद दिवालिएपन से उभरी है। इसने अपने मुख्य शेयरधारक, अरबपति लुसियो टैन से अपनी निवेश होल्डिंग कंपनियों के माध्यम से 505 मिलियन अतिरिक्त पूंजी प्राप्त की। साथ ही इंडोनेशिया की गरुड़ एयरलाइन्स भी अदालत द्वारा लागू पुनर्गठन के बीच में है। पिछले हफ्ते ही, एक इंडोनेशियाई अदालत ने गरुड़ एयरलाइन्स के ऋण पुनर्गठन की अवधि को 60 दिनों के लिए बढ़ा दिया है। ताकि एयरलाइन्स को सभी दावों को सत्यापित करने के लिए अधिक समय मिल सके। 

Edited By: Ashisha Rajput