जेनेवा, एएनआइ। कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमीक्रोन को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization,WHO) ने मंगलवार को दुनिया के सभी देशों से शांति व धैर्य के साथ बचाव के उपायों को लागू   करने की अपील की है। साथ ही 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले बुजुर्गों को फिलहाल यात्रा स्थगित करने की सलाह  दी  और कहा कि पूरी तरह से यात्रा प्रतिबंध लागू करने से ओमीक्रोन का प्रसार नहीं रुकेगा।

संगठन ने कहा कि अत्यधिक-संक्रामक वेरिएंट Omicron दुनिया भर में फैल रहा है। कई देशों ने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सख्त यात्रा दिशा निर्देश लागू करना शुरू कर दिया है। WHO चीफ टेड्रोस अधनम घेब्रेसस (Tedros Adhanom Ghebreysus) ने ब्रीफिंग में कहा, 'हम सभी सदस्य देशों से बचाव के लिए समुचित कदम उठाने की अपील करते हैं।' 

बता दें कि पिछले सप्ताह जब दक्षिण अफ्रीका की ओर से इस नए वैरिएंट ओमीक्रोन के बारे में WHO को जानकारी दी गई तब तक यह नीदरलैंड (Netherlands) पहुंच चुका था। वहां के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि देश में नए कोविड-19 ओमीक्रोन से संक्रमण का मामला मिल चुका है। नेशनल हेल्थ एन्वायर्नमेंट इंस्टीट्यूट ने बताया, 'नवंबर की शुरुआत में ही लिए गए टेस्ट सैंपल में RIVM को ओमीक्रोन वैरिएंट मिल गया है। ये सैंपल 19-23 नवंबर के बीच GGD टेस्ट लेन्स (test lanes) में लिया गया था।'

बोत्सवाना में 11 नवंबर 2021 को कोविड-19 के नए वैरिएंट ओमीक्रोन (B.1.1.529) का पता चला था। इसके बाद 14 नवंबर को यह दक्षिण अफ्रीका में मिला। WHO ने इसे वैरिएंट आफ कंसर्न की श्रेणी में डाला है।दक्षिण अफ्रीका के सभी प्रांतों में इस वैरिएंट से संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। कोविड-19 वैरिएंट ओमीक्रोन की उत्पत्ति को लेकर अमेरिका, फिलीपींस, स्पेन, इजरायल, आस्ट्रिया, मोरक्को समेत अनेकों देशों की ओर से अफ्रीकी देशों के लिए यात्रा प्रतिबंध लागू कर दिया गया है। इसके साथ ही कनाडा ने पिछले 14 दिनों के भीतर दक्षिण अफ्रीका की यात्रा करने वाले सभी विदेशी नागरिकों के प्रवेश पर रोक लगा दी है।

Edited By: Monika Minal