नई दिल्‍ली, जेएनएन। Who is Nadhim Zahawi: ब्रिटेन में सियासी पारा चरम पर है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जानसन की सरकार संकटों से घिर गई है। जानसन के करीबी छह मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद ब्रिटेन में राजनीतिक संकट गहरा गया है। इन सबके बीच नादिम जाहवी का नाम खास चर्चा में है। जानसन सरकार में वह नए वित्‍त मंत्री बने हैं। उ‍न्‍होंने ऋषि सुनक का स्‍थान लिया है। पीएम जानसन ने अब सुनक की जगह नादिम जाहवी को नया वित्त मंत्री और ब्रिटिश कैबिनेट के चीफ आफ स्टाफ स्टीव बार्सले को जाविद के बाद स्वास्थ्य सचिव की जिम्मेदारी दी है। ऐसे में यह सवाल है कि नादिम जाहवी कौन है। इनका राजनीतिक करियर क्‍या है।

आखिर कौन हैं नादिम जाहवी

1- नादिम जाहवी को ब्रिटेन का नया वित्त मंत्री बनाया गया है। नादिम ने ऋषि सुनाक की जगह ली है। भारतीय मूल के ऋषि सुनाक ने वित्त मंत्री के पद से इस्तीफा दिया था। जाहवी को ब्रिटेन का नया वित्त मंत्री बनाया गया है नादिम ने ऋषि सुनाक की जगह ली है। भारतीय मूल के ऋषि सुनाक ने वित्त मंत्री के पद से इस्तीफा दिया था। इसके बाद नादिम को वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है। बोरिस जानसन सरकार के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद ने भी इस्तीफा दे दिया है। स्टीव बार्कले को स्वास्थ्य मंत्री नियुक्त किया गया है।

2- नादिम जाहवी को कंजर्वेटिव पार्टी का उभरता सितारा माना जा रहा है। नादिम पहली बार साल 2010 में स्ट्रैटफोर्ड-आन-एवन से कंजर्वेटिव पार्टी के सांसद चुने गए। नादिम जाहवी का जन्म इराक के कुर्दिस्तान में हुआ था। वर्ष 1978 में उनका परिवार इराक से भागकर इंग्लैंड आया था। दरअसल, इराक में सद्दाम हुसैन सत्ता पर काबिज हो गए थे। उसके बाद नादिम के परिवार को इराक छोड़ना पड़ा। उस वक्त नादिम की उम्र सिर्फ 11 वर्ष की थी।

3- नामिद को इंग्लैंड आने के बाद काफी संघर्ष करना पड़ा था। उनको इंग्लिश भाषा की वजह से दिक्कत भी आई, इसको लेकर नादिम के टीचर ने उनके माता-पिता को चेतावनी भी दी थी। टीचर ने कहा था कि शुरुआत में इंग्लिश बोलने में दिक्कत की वजह से सीखने में संघर्ष करना पड़ सकता है। राजनीति में आने से पूर्व 55 साल के नादिम एक सफल व्‍यापारी रहे हैं। वर्ष 2000 में नादिम ने पोलिंग कंपनी YouGov की सह-स्थापना की थी। वर्ष 2010 तक नादिम इस कंपनी के मुख्य कार्यकारी रहे। उन्होंने कड़ी मेहनत की और कंपनी को ब्रिटेन की टाप मार्केट रिसर्च कंपनियों में से एक बनाया।

4- वर्ष 2010 में पीएम डेविड कैमरन के कार्यकाल में नामिद जूनियर मंत्री के तौर पर काम करने के बाद वर्ष 2020 में कोरोना वैक्सीन रोलआउट के प्रभारी मंत्री बनाए गए थे। इसके बाद वर्ष 2021 में बोरिस जानसन ने उन्‍हें शिक्षा सचिव के तौर पर कैबिनेट में नियुक्त किया था। 1990 के दशक में नादिम टोरी के पूर्व सांसद और उपन्यासकार जेफरी आर्चर के सलाहकार भी रहे हैं। आपको बता दें कि साल 2001 में झूठी गवाही के मामले में जेफरी को जेल भेजा गया था।

संकट में जानसन, मंत्रियों के इस्‍तीफे का दौर जारी

प्रधानमंत्री बोरिस जानसन की कंजर्वेटिव पार्टी को बड़ा झटका लगा है। ब्रिटिश सांसद लौरा ट्रॉट ने बुधवार को परिवहन विभाग के संसदीय निजी सचिव के रूप में अपनी भूमिका से इस्तीफा दे दिया हैं। सांसद ट्रॉट ने एक फेसबुक पोस्ट के जरिए अपने इस्तीफे के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि राजनीति में विश्वास सबसे महत्वपूर्ण है और हमेशा होना चाहिए। लेकिन दुख की बात है कि हाल के महीनों में यह खो गया है। दरअसल, ब्रिटेन सरकार से अब तक चार मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है। चिल्ड्रन एंड फैमिली मिनिस्टर विल क्विंस ने बुधवार को यह कहते हुए इस्तीफा दे दिया कि प्रधानमंत्री पिछले मुख्य सचेतक के खिलाफ लगाए गए विशिष्ट आरोपों से अवगत नहीं थे। इससे पहले ब्रिटेन के वित्त मंत्री ऋषि सनक और स्वास्थ्य सचिव साजिद जाविद ने मंगलवार को इस्तीफा दे दिया था। जिससे ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जानसन की सरकार संकट में आ गई। अपने त्याग पत्र में ऋषि सनक ने कहा कि वह सरकार छोड़ने से दुखी हैं, इसलिए वे इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं कि वह इसे आगे जारी नहीं रख सकते हैं।

Edited By: Ramesh Mishra