Move to Jagran APP

Paris: पेरिस की रक्षा प्रदर्शनी में भारत में बने हथियारों की धूम, भारत की यह तकनीक बनी प्रमुख आकर्षण का केंद्र

फ्रांस में इन दिनों रक्षा प्रदर्शनी यूरोसेटरी 2024 का आयोजन किया जा रहा है। प्रदर्शनी में भारत के रक्षा क्षेत्र की निजी एवं सरकारी कंपनियां भी हिस्सा ले रही हैं। इसमें पिनाक मल्टी-बैरल राकेट लांचर सिस्टम और एलसीए तेजस लड़ाकू विमान जैसे भारत में बने उत्पादों को प्रदर्शित किया जा रहा है। भारत की ओर से पिनाक मल्टी बैरेल रॉकेट लांचर सिस्टम प्रमुख आकर्षणों में से एक है।

By Agency Edited By: Jeet Kumar Wed, 19 Jun 2024 06:00 AM (IST)
फ्रांस में रक्षा प्रदर्शनी में भारत के रक्षा क्षेत्र की निजी एवं सरकारी कंपनियां भी हिस्सा ले रही हैं

 एएनआइ, पेरिस। फ्रांस में इन दिनों रक्षा प्रदर्शनी 'यूरोसेटरी, 2024' का आयोजन किया जा रहा है। प्रदर्शनी में भारत के रक्षा क्षेत्र की निजी एवं सरकारी कंपनियां भी हिस्सा ले रही हैं। इसमें पिनाक मल्टी-बैरल राकेट लांचर सिस्टम और एलसीए तेजस लड़ाकू विमान जैसे भारत में बने उत्पादों को प्रदर्शित किया जा रहा है।

प्रदर्शनी में भारत के पैवेलियन का उद्घाटन सोमवार को फ्रांस में भारत के राजदूत जावेद अशरफ ने किया। इस मौके पर भारत इलेक्ट्रानिक्स लिमिटेड के निदेशक मनोज जैन व केवी सुरेश कुमार, फ्रांस में भारत के डिफेंस अटैची ब्रिगेडियर जुबिन भटनागर, रक्षा क्षेत्र के सार्वजनिक उपक्रमों व डीआरडीओ के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

मल्टी बैरेल रॉकेट लांचर सिस्टम प्रमुख आकर्षणों में से एक

प्रदर्शनी में डीआरडीओ अपनी 11 प्रमुख रक्षा तकनीकों व उत्पादों को प्रदर्शित कर रहा है। भारत की ओर से पिनाक मल्टी बैरेल रॉकेट लांचर सिस्टम प्रमुख आकर्षणों में से एक है। डीआरडीओ अपना एयरबार्न अर्ली वार्निंग एंड कंट्रोल सिस्टम, एलसीए तेजस, अस्त्र बियांड विजुअल रेंज मिसाइल और आकाश एयर डिफेंस सिस्टम को भी प्रदर्शित कर रहा है। मुख्य युद्धक टैंक अर्जुन, हेवीवेट तारपीडो वरुणास्त्र के अलावा व्हील्ड आर्मर्ड प्लेटफार्म को भी प्रदर्शित किया गया है।