सिओल (एपी)। अमेरिका के रक्षा मंत्री लायड आस्टिन ने कहा है कि चीन की हाइपरसोनिक मिसाइल से पूरे इलाके तनाव में इजाफा होगा। उन्‍होंने ये बयान दक्षिण कोरिया में अपने समकक्ष मंत्री के साथ हुई सालाना सुरक्षा वार्ता के मौके पर दिया है। ये सुरक्षा वार्ता चीन और उत्‍तर कोरिया समेत दूसरे विषयों पर आधारित थी। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि चीन द्वारा लगातार सैन्‍य क्षमता में इजाफा किए जाने से अेमेरिका चिंतित हे। 

उन्‍होंने यहां तक कहा कि चीन जिस हाइपरसोनिक मिसाइल की तरफ आगे बढ़ रहा है कि उससे इस क्षेत्र में तनाव ही बढ़ेगा। आपको बता दें कि चीन ने इस वर्ष जुलाई में अपनी हाइपरसोनिक मिसाइल का टेस्‍ट किया था। आस्टिन ने बताया कि चीन जिस तरह से अपनी सैन्‍य क्षमता में इजाफा कर रहा है कि उससे अमेरिका की डिफेंस स्‍ट्रेटेजी पर खतरा मंडराता दिखाई दे रहा है। इस सुरक्षा वार्ता में आस्टिन ने ये भी साफ कर दिया कि अमेरिका अपनी और अपने करीबी देशों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। उसमें इसकी का‍बलियत भी है।

गौरतलब है कि चीन ने अगस्‍त में जिस हाइपरसोनिक मिसाइल का टेस्‍ट किया था उसको लेकर भी उसकी कड़ी आलोचना की गई थी। अमेरिका समेत कई दूसरे बड़े देशों ने इसको गलत करार दिया था। आपको बता दें कि हाइपरसोनिक मिसाइल 5 मैक की गति या यूं कहें आवाज की गति से करीब पांच गुणा रफ्तार से चलती है। इस सुरक्षा वार्ता में उत्‍तर कोरिया के रवैये पर भी नाराजगी जताई गई। दक्षिण कोरिया और अमेरिका का मानना है कि उत्‍तर कोरिया का मिसाइल प्रोग्राम भी इस पूरे क्षेत्र की सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा बन सकता है। बता दें कि अमेरिका और दक्षिण कोरिया दोनों ही उत्‍तर कोरिया से संबंधों को बेहतर बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं। हालांकि उनकी इस पहल का अब तक सकारात्‍मक जवाब नहीं मिला है।   

Edited By: Kamal Verma