वाशिंगटन, एजेंसी । अमेरिका एवं संयुक्‍त राष्‍ट्र संघ ने अफगानिस्‍तान की राजधानी काबूल में हुए आतंकवादी हमले की कड़े शब्‍दों में निंदा की है। इस हमले में 63 लोगों की जानें गई, 180 से अधिक लोग घायल हो गए। इस हमले की जिम्‍मेदारी आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट (आइएस) ने ली है।
आतंकी हमले की अमेरिका ने की निंदा 
संयुक्‍त राज्‍य अमेरिका के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्‍टन ने ट्वीट किया कि‍ 'हम काबुल में शादी की पार्टी में आइएस के हमले की भर्त्सना करते हैं।" उन्‍होंने कहा कि "इस संकट की घड़ी में अमेरिका अफगानिस्‍तान के नागरिकों के साथ खड़ा है। बोल्‍टन ने कहा कि अफगानिस्‍तान में शांति बहाली स्‍थापित करना उनके देश की बड़ी प्राथमिकता है। उन्‍होंने कहा कि इस हमले का शांति प्रक्रिया पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। 
संयुक्‍त राष्‍ट्र ने गहरी संवेदना व्‍यक्‍त की 
उधर, संयुक्‍त राष्‍ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने भी इस हमले की निंदा की है। समाचार एजेंसी सिन्‍हुआ के प्रवक्‍ता स्‍टीफन डुजारिका के हवाले से कहा गया है कि अफगान की राजधानी काबुल में हुए आतंकी हमले की कड़ी निंदा करता है। संयुक्‍त राष्‍ट्र प्रमुख ने हमले में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्‍यक्‍त की है। एंटोनियो ने कहा कि संयुक्‍त्‍ राष्‍ट्र संकट की इस घड़ी में अफगानिस्‍तान सरकार एवं वहां के नागरिकों के साथ खड़ा है। 
बता दें कि शनिवार को काबुल में शाहर-ए-दुबई मैरिज हॉल के अंदर यह धमाका हुआ था, जब हॉल एक अफगान जोड़े के शादी समारोह में शामिल होने वाले मेहमानों से खचाखच भरा हुआ था। इस हमले में 63 लोगों की मारे जाने की खबर है। इस आतंकी घटना में 180 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। करीब पचास लाख आबादी वाले काबूल में कई बड़े आतंकी हमले हो चुके हैं। 

 यह भी पढ़ें: 99 साल की लीज पर चीन के हवाले किया गया था हांगकांग, जानें विवाद की पूरी कहानी...

यह भी पढ़ेंः लंदन में स्वतंत्रता दिवस मना रहे भारतीयों पर पाक ने कराया हमला 

दुनियाभर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Ramesh Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप