कीव, एएफपी। यूक्रेन की राजनीति में एक ऑडियो के लीक होने के बाद उथल-पुथल मच गया। इस ऑडियो  में देश के प्रधानमंत्री यहां के राष्‍ट्रपति की अर्थव्‍यवस्‍था के समझ को लेकर आलोचना करते नजर आ रहे हैं। ऑफिस में चार महीने बिताने के बाद प्रधानमंत्री ने अपना इस्‍तीफा राष्‍ट्रपति को सौंपा। उन्‍होंने इसका ऐलान 17 जनवरी को अपने फेसबुक पोस्‍ट के जरिए किया।

राष्‍ट्रपति वोलोदोमिर जेलेंस्‍की की निंदा करने वाले देश के प्रधानमंत्री ओलेक्‍सी होंचारुक ने शुक्रवार को अपने इस्‍तीफे की पेशकश की। दरअसल, प्रधानमंत्री का एक ऑडियो लीक हुआ है जिसमें वे अर्थव्‍यवस्‍था को लेकर राष्‍ट्रपति जेलेंस्‍की की समझ की निंदा कर रहे हैं। होंचारुक ने अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर लिखा, ‘राष्‍ट्रपति को लेकर हमारे विश्‍वास और सम्‍मान को लेकर किसी तरह के संदेह को दूर करने लिए मैंने इस्‍तीफा पत्र लिखा और उसे राष्‍ट्रपति को सौंप दिया है। 

उन्‍होंने अपने इस्‍तीफे के ऐलान के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया। अपने फेसबुक पोस्‍ट में उन्‍होंने लिखा, ‘मैं इस पद पर राष्‍ट्रपति के कार्य को पूरा करने के लिए आया था। मेरे लिए वो खुले विचारों व शालीनता के उदाहरण हैं। उनके प्रति मेरे विचारों में सम्‍मान है। इसलिए मैंने अपना इस्‍तीफा उन्‍हें सौंप दिया है।

संसदीय चुनावों में जेलेंस्‍की की पार्टी को मिली भारी जीत के बाद सितंबर 2019 में होंचारुक को प्रधानमंत्री के तौर पर नियुक्‍त किया गया। 1991 में आजादी के बाद से वे पहले युवा प्रधानमंत्री हैं जिन्‍होंने मात्र 35 की उम्र में यह पद संभाला है। उनका कहना है कि उनकी छवि खराब करने के लिए इस ऑडियो का इस्‍तेमाल किया जा रहा है।

इस्‍तीफे का ऐलान ऑडियो रिकॉर्ड के ऑनलाइन लीक होने के दो दिन बाद किया गया है। इस रिकॉर्डिंग में राष्‍ट्रपति द्वारा अर्थव्‍यवस्‍था के बारे में समझ को लेकर प्रधानमंत्री के कुछ बयान हैं। उन्‍होंने अपने फेसबुक पोस्‍ट में कहा कि लीक ऑडियो फाइल्‍स को एडिट किया गया है यह विभिन्‍न सरकारी मीटिंग के टुकड़ों को एकत्रित कर बनाया गया है। इस ऑडियो का राष्‍ट्रपति के प्रति उनके बुरे छवि को पेश करने का मकसद है। उन्‍होंने इसे गलत बताया है। राष्‍ट्रपति कार्यालय ने प्रतिक्रिया दी है कि राष्‍ट्रपति इस इस्‍तीफा की समीक्षा करेंगे।

इकोनॉमी, ट्रेड व एग्रीकल्‍चर मंत्री टिमोफी माइलोवानोव ने प्रधानमंत्री के प्रति समर्थन जताते हुए कहा, ‘यूक्रेन के इतिहास में वे सबसे अच्‍छे प्रधानमंत्री हैं। उन्‍होंने कहा कि होंचारुक को विपक्ष द्वारा निशाना बनाया गया है।’

यह भी पढ़ें: यूक्रेन विमान हादसे में ईरान ने की पहली गिरफ्तारी, रूहानी बोले- नहीं बचेंगे दोषी

यह भी पढ़ें: यूक्रेन पर दबाव डालने को ट्रंप प्रशासन ने रोकी सैन्य सहायता

Posted By: Monika Minal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस