बुखारेस्ट, एपी। यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने बुधवार को कहा कि नाटो के राजनायिकों ने यूक्रेन को सशस्त्र करने के लिए नई प्रतिबद्धता जताई है। इसके तहत यूक्रेन को हथियारों की सप्लाई की जाएगी। हालांकि विदेश मंत्री ने बताया कि नाटो ने ये कहने से इनकार कर दिया कि नई प्रतिबद्धताओं में पैट्रियट मिसाइल बैटरी के वादे शामिल हैं या नहीं। दिमित्रो कुलेबा ने रोमानिया की राजधानी बुखारेस्ट में नाटो की विदेश मंत्रियों की बैठक में ये बात कही।

यूक्रेन को मदद देने पर चर्चा

नाटो की विदेश मंत्रियों की बैठक में रूसी बमबारी से सर्दियों में यूक्रेन को हथियार और उपकरण से लैस करना व यूक्रेन की बिजली ग्रिड के पुनर्निर्माण पर चर्चा की गई। बता दें कि यूक्रेन में रूसी हमले से कई बुनियादी ढांचे को नुकसान पहुंचा है, जिनमें बिजली संयंत्र व ऊर्जा अवसंरचना को विशेष रूप से टारगेट किया गया है। बैठक के दौरान, यूक्रेनी विदेश मंत्री कुलेबा ने कहा, ' हमने यूक्रेन को अधिक रक्षात्मक हथियार और ऊर्जा उपकरण प्रदान करने के संबंध में विभिन्न नाटो सदस्यों से कई नई प्रतिबद्धताओं को सुना।'

ऊर्जा अवसंरचना को निशाना बना रहा है रूस

इससे पहले, कुलेबा ने मंगलवार को घोषणा की थी कि नाटो का कहना है कि यूक्रेन के ऊर्जा संचरण ग्रिड को नष्ट करने के उद्देश्य से रूस हमला कर रहा है। इससे निपटने के लिए यूक्रेन को पैट्रियट और विद्युत ट्रांसफार्मर की सबसे अधिक जरूरत है। यूक्रेन यूएस-निर्मित पैट्रियट मिसाइल बैटरी या अन्य वायु रक्षा प्रणालियों की मांग कर रहा है जो कि रूसी हवाई हमलों को रोकने के लिए अमेरिका और अन्य सहयोगियों से अब तक प्राप्त की गई तुलना में अधिक उन्नत हैं।

यूक्रेन को अमेरिका का मजबूत समर्थन

कुलेबा ने बुधवार को अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन के साथ बैठक की। बैठक के बाद पूछे जाने पर कि क्या उन्होंने पैट्रियट पर कोई प्रतिबद्धता प्राप्त की है, उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। वहीं, ब्लिंकन ने कहा, 'मेरे लिए जो बहुत स्पष्ट है। वह यह है कि नाटो के विदेश मंत्रियों की ओर से हथियार और अन्य सहायता के साथ यूक्रेन का समर्थन जारी रखने के लिए मजबूत हैं।'

ये भी पढ़ें: विदेशियों ने सालभर में 1.75 लाख करोड़ निकाले, तो म्यूचुअल फंड्स ने 1.93 लाख करोड़ निवेश कर मजबूती दी

ये भी पढ़ें: Fact Check : FIFA World Cup 2022 में अजान की वजह से नहीं रोका गया मैच, वायरल वीडियो चार साल पुराना

Edited By: Devshanker Chovdhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट