पेरिस, एपी। फ्रांस के आतंकवाद निरोधी दस्ते ने चार्ली आब्दो पत्रिका के कार्यालय के सामने चाकूबाजी की दोहरी घटना होने के बाद जांच शुरू कर दी है। इसी पत्रिका के दफ्तर में 2015 में हुए आतंकी हमले में एक दर्जन लोग मारे गए थे। अधिकारियों ने शुक्रवार को हुई हिंसा मामले में दो दो संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया है।

फ्रांस के आतंकवाद निरोधी अभियोजक ने कहा कि अधिकारियों को इस घटना के पीछे आतंकी मंशा होने का संदेह है। हमले की जगह और चाकूबाजी के समय को लेकर यह आशंका जताई जा रही है। यह ¨हसा चार्ली आब्दो पत्रिका का कार्यालय जिस भवन में स्थित है उसके सामने हुई है।

अभियोजक जेआन फ्रांस्वा रिकार्ड ने कहा कि शुक्रवार को हुई चाकूबाजी के मुख्य संदिग्ध को गिरफ्तार कर लिया गया है। रिकार्ड ने कहा कि हमलावर नहीं जानते थे कि जिसे चाकू मार रहे हैं, वह कौन हैं। जिन्हें चाकू मारा गया है वह एक डॉक्यूमेंट्री प्रोडक्शन कंपनी के कर्मचारी हैं और सिगरेट पीने के लिए बाहर आए थे। संदिग्ध की पहचान जारी नहीं की गई है और हमले के कारण का भी पता नहीं चल पाया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस