नई दिल्ली, एजेंसी। ताइवान में तीन दशक पुराना पुल भरभराकर गिर गया। ताइवान की केंद्रीय सूचना एजेंसी के अनुसार जिस समय पुल गिरा उस समय पुल के ऊपर से गैस टैंकर गुजर रहा था वो भी पुल को पार नहीं कर पाया। पुल के अंतिम में पहुंचने के दौरान गाड़ी नदी में समा गई। पुल गिरने के बाद आसपास में मौजूद 30 से अधिक लोग मामूली रुप से घायल हो गए। ये गैस टैंकर सुबह के 5 बजे पुल के ऊपर से गुजर रही थी।

पुल पार नहीं कर पाया गैस टैंकर

एजेंसी के अनुसार गैस टैंकर आराम से पुल के ऊपर से होते हुए दूसरी ओर जा रहा था। जब तक वो पुल के किनारे पहुंचता उसी दौरान पुल का हिस्सा गिरने लगा। गैस टैंकर लगभग किनारे पर पहुंच गया था मगर वो पुल को पार नहीं कर पाया और नदी में समा गया। इस पुल को साल 1990 में बनाया गया था। पुल ताइवान के यिलान काउंटी में मछली पकड़ने के जहाजों की एक पंक्ति पर गिर गया। पुल के नीचे मछली पकड़ने की नावें थीं, और कई मोटर चालक पानी में डूब गए। 

पुल की खासियत

ये पुल एशिया का पहला एकल-आर्च ब्रिज था। इसका नाम द नानफंगाओ वियाडक्ट ब्रिज रखा गया था। इस पुल को स्टील का बनाया गया था। ये स्टील पुल 140 मीटर लंबा और 15 मीटर चौड़ा था। इस पुल को साल 1990 के दशक के अंत में नानफंगाओ के मछली पकड़ने के बंदरगाह में बनाया गया था।

सीसीटीवी में पूरी घटना हुई रिकार्ड

इस पुल के ढहने के बारे में ताइवान सेंट्रल इंफॉर्मेशन एजेंसी ने कहा कि यह घटना दोपहर एक बजे हुई। इस पुल के गिरने से 10 लोग और दो कोस्टगार्ड के जवान घायल हो गए और छह और लोग मामूली रुप से घायल हुए है। जिस समय पुल गिरने की घटना हुई उस समय यहां पर कुछ नावें भी चल रही थीं, उसमें मछली पकड़ने के लिए मछुआरे सवार थे। अचानक हुई इस घटना को देखकर वो सभी भौचक्के रह गए। पुल गिरने के बाद वहां थोड़ी देर के लिए अफरातफरी का माहौल रहा उसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

पुलिस की टीम मदद के लिए पहुंची

सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंचकर बचाव और राहत के काम शुरु किए। एक फेसबुक पोस्ट में ताइवान प्रीमियर सु त्सेंग-चांग ने कहा कि इस पुल के गिरने के बाद वहां पर यदि कुछ लोग फंसे हुए थे तो उनके जीवन को बचाना प्राथमिकता है। वहां मौजूद ऐसे सभी अधिकारियों को फंसे लोगों को बचाने के लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 

Posted By: Vinay Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप