बेरुत (रायटर्स)। सीरियाई सरकार ने उत्तरी इराक में कुर्दिस्तान क्षेत्रीय सरकार (केआरजी) द्वारा आयोजित स्वतंत्रता जनमत संग्रह को खारिज कर दिया। बता दें कि इसे रोकने के लिए तमाम अंतरराष्‍ट्रीय व क्षेत्रीय दवाब के बावजूद उत्‍तरी इराक में सोमवार को वोटिंग की प्रक्रिया संपन्‍न हुई। उल्‍लेखनीय है कि इराक में बसे कुर्द लंबे समय से आजादी की मांग कर रहे हैं।

इस साल जून में ही इराक कुर्द स्वशासन क्षेत्र ने 25 सितंबर को इस क्षेत्र की स्वतंत्रता पर जनमत-संग्रह का आयोजन करने की घोषणा की थी। लेकिन इसका विरोध इराक सरकार, तुर्की और ईरान शुरू से ही कर रहे हैं। 18 सितंबर को इराकी सर्वोच्च अदालत ने भी कुर्द क्षेत्र से 25 सितंबर के जनमत-संग्रह को बंद करने की मांग की।
सीरिया के विदेश मंत्री वालिद अल-मोआलेम ने कहा, ‘सीरिया में हम केवल संयुक्‍त इराक देखते हैं और इराक के बंटवारे वाली हर प्रक्रिया को खारिज करते हैं।
उन्‍होंने आगे कहा, इस जनमत संग्रह को खारिज किया गया और हम इसे नहीं स्‍वीकार करते हैं। कल मैंने इराकी विदेश मंत्री को इस बारे में सूचित किया था।‘ इरान व रूसी सेना के समर्थन से सीरियाई सरकार अपने क्षेत्र पर वापस अधिकार कर रही है।
यह भी पढ़ें: कुर्द जनमत संग्रह से पहले ईरान का सैन्य अभ्यास

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस