नई दिल्ली, आइएएनएस: तालिबान ने अफगानिस्तान में अब महिलाओं और लड़कियों पर काफी शाप में जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। यहां वह अपने किसी पुरुष परिचित के साथ भी नहीं जा सकेंगीं। राहा न्यूज के अनुसार अफगानिस्तान के हेरत प्रांत में तालिबान दफ्तर के प्रमुख शेख अजीजी उर रहमान अल मोहाजेर ने यह आदेश जारी करते हुए कहा कि महिलाओं और लड़कियों का संगीत सुनना और किसी काफी शाप में जाना वर्जित है।

काफी शाप में हो सकती है लूटपाट

तालिबान के मुताबिक, काफी शाप सरीखी दुकानों में महिलाओं के साथ लूटपाट, अपहरण और ऐसी ही कई अन्य घटनाएं हो सकती हैं। जिसके चलते उनको वहां जाने से प्रतिबंधित किया गया है। तालिबानी आदेश में यह भी कहा गया है कि काफी शाप केवल रात साढ़े नौ बजे तक ही खुला करेगी और इसमें केवल पुरुष ही आ सकेंगे।

एथलेटिक खेलों पर भी प्रतिबंध

गौरतलब है कि, अफ्गानिस्तान में तालिबान द्वारा सत्ता पर कब्जा करने के बाद से महिलाओं के प्रति कई तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं। गुरूवार को टोलो न्यूज के हवाले से आई एक खबर के मुताबिक, तालिबान ने महिलाओं के लिए एथलेटिक खेलों पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। काबुल में स्पोर्ट्स क्लब संचालकों के मुताबिक, आतंकी संगठन खेलों में महिलाओं को अनुमति नहीं देता है।

मानव अधिकार संगठनों का विरोध

काबुल में कई स्पोर्ट्स क्लब मालिकों ने कहा कि तालिबान ने महिलाओं के लिए एथलेटिक खेलों पर प्रतिबंध लगा दिया है। यहां एथलेटिक खेलों में महिलाओं का एक अलग वर्ग है, उनके लिए कोच भी एक महिला है। लेकिन फिर भी उन्हें खेलों में शामिल होने की अनुमति नहीं है। इस बीच इस्लामिक अमीरात के तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है कि, वो इस्लामी मूल्यों और अफगान संस्कृति पर आधारित महिलाओं के खेल की अनुमति देगा। टोलो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, मौजूदा सरकार द्वारा खेलों में महिलाओं के प्रतिबंध को अंतरराष्ट्रीय मानवीय संगठनों द्वारा आलोचना का सामना करना पड़ा है।

Edited By: Amit Singh