हनोई/मनीला, रायटर। वियतनाम में बाढ़ और भूस्खलन से हालात बेकाबू हो गए हैं। इसके बाद सरकार अब बाढ़ग्रस्त इलाकों से लगभग 13 लाख लोगों को निकालने की तैयारी कर रही है। यहा टाइफून मोलेव ने हालात बिगाड़ दिए हैं। टाइफून मोलावे के कारण फिलीपींस में रातोंरात बाढ़, भूस्खलन के कारण कम से कम एक दर्जन मछुआरों लापता हो गए हैं। आपदा एजेंसी ने कहा कि टाइफून मोलावे, 125 किलोमीटर (77 मील) प्रति घंटे की हवा की गति और 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ लूजॉन के मुख्य फिलीपीन द्वीप पर सोमवार को भारी बारिश के साथ सात भूस्खलन और बाढ़ का कारण बना।

हताहतों की कोई रिपोर्ट नहीं की गई है लेकिन समुद्र में 12 मछुआरे देश के पूर्वी तट से कैटांडुआनज प्रांत में लौटने में असफल रहे। इस साल फिलीपींस को परेशान करने वाला 17 वां तूफान मोलावे बुधवार को मध्य वियतनाम में 135 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा के साथ उड़ान भरने का अनुमान है। यह वियतनाम का चार महीने में आने वाला चौथा तूफान होगा, जिसके दौरान बाढ़ और भूस्खलन ने 130 लोगों की जान ले ली और मध्य क्षेत्र में 20 लापता हो गए।

भयंकर बाढ़ का सामना कर रहा वियतनाम

वियतनाम कई सालों में सबसे भयंकर बाढ़ का सामना कर रहा है। यहां बाढ़ के कारण हुए भूस्खलन में सेना के बैरक भी जमींदोज हो गए हैं। भूस्खलन के कारण सेना के जवान भी लापता हो गए हैं। करीब 11 जवानों के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं है। हालांकि, बैरेक से क्वांग ट्राइ प्रांत में अब तक सेना के जवानों की 11 लाशों को निकाला जा चुका है।

कई हिस्सों में भारी बारिश

जानकारी के लिए बता दें कि पिछले हफ्ते वियतनाम के कई हिस्सों में भारी बारिश हुई है। वियतनाम में बाढ़ और बारिश के कारण कई लोग मारे जा चुके हैं। आने वाले दिनों में बाढ़ के पानी का स्तर और अधिक बढ़ने का भय बना हुआ है। सरकार का कहना है कि वियतनाम के चौथे मिलिट्री रीजन की एक इकाई रविवार की सुबह भूस्खलन का शिकार हुई है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस