सियोल (एजेंसी)। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मूल जेई -इन ने बुधवार को ऐलान किया कि उनकी सरकार कोरियाई प्रायद्वीप पर शांति कायम करने के लिए परमाणु हथियार विकसित नहीं करेगी। देश की संसद को संबोधित करते हुए मून ने कहा कि वर्तमान कठिन परिस्थितियों के बावजूद भी उनका प्रशासन कोरियाई प्रायद्वीप पर शांति बरकरार रखने के लिए प्रतिबद्ध है।

मई में कार्यभार संभालने के बाद मून ने दूसरी बार देश की संसद को संबोधित किया।  उन्होंने कहा कि परमाणु हथियार सम्पन्न राष्ट्र बनने के उत्तर कोरिया के जोर को स्वीकार नहीं किया जा सकता और हम स्वयं भी किसी परमाणु हथियार को विकसित नहीं करेगें।

उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया के परमाणु विवाद के मसले का शांतिपूर्ण तरीके से हल निकाला जाना चाहिए। मूल ने इस बात पर जोर दिया कि तानाशाह किम जोंग पर दवाब बनाने के अलावा प्रतिबंध लगाना ही एकमात्र उपाय है तांकि वो वापस बातचीत के रास्ते पर आए। आपको बता दें कि हाल के महीने में उत्तर कोरिया ने अपना छठा परमाणु परीक्षण किया था जो अब तक का सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण था। उत्तर कोरिया ने अमेरिकी भूभाग तक पहुंचने में सक्षम मिसाइल का भी प्रक्षेपण किया, जिससे अमेरिका के साथ सुरक्षा गठबंधन को लेकर दक्षिण कोरिया में चिंताएं बढ़ गयी हैं।

यह भी पढ़ें: परमाणु हमले की धमकी देने वाला उत्तर कोरिया खाली करवा रहा अपने ही कई शहर

यह भी पढ़ें: उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण से गई थी 200 लोगों की जान

Posted By: Kishor Joshi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस