लंदन, पीटीआइ। भारतीय मूल के ब्रिटिश वित्त मंत्री ऋषि सुनक प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की गैरमौजूदगी में उनके डिप्टी के रूप में काम करने के लिए विदेश मंत्री डोमिनिक राब के बाद अग्रिम पंक्ति में खड़े हैं। महामारी के चलते अगर राब जॉनसन के डिप्टी के रूप में काम करने में असमर्थ होते हैं तो यह जिम्मेदारी सुनक के कंधों पर आ जाएगी। प्रधानमंत्री कार्यालय डाउनिंग स्ट्रीट ने यह जानकारी दी है।

ब्रिटिश सरकार में ऋषि सुनक का पद चांसलर ऑफ द एक्सचेकर का है, यानी वो वित्त मंत्रालय के चांसलर हैं। चांसलर के रूप में वह आर्थिक मोर्चे पर कोरोना के खिलाफ लड़ाई का नेतृत्व कर रहे हैं। ब्रिटिश सरकार में वरिष्ठता के स्थापित क्रम में सुनक स्वत: ही प्रधानमंत्री के डिप्टी के रूप में काम करने वालों में अग्रिम पंक्ति में आ जाएंगे। बता दें कि ब्रिटेन का कोई लिखित संविधान नहीं है।

ब्रिटिश सरकार में शीर्ष कमांड की चेन के बारे में पूछे जाने पर डाउनिंग स्ट्रीट में जॉनसन के प्रवक्ता ने कहा, 'वरिष्ठता का एक स्थापित क्रम है। प्रधानमंत्री ने विदेश मंत्री (राब) को अपने पहले राज्य मंत्री के रूप में नियुक्त किया है। वरिष्ठता के क्रम में, चांसलर (सुनक) विदेश मंत्री के बाद आएंगे।'

ब्रिटेन में कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते प्रकोप को देखते हुए नेतृत्व को लेकर अटकलें तेज हो गई हैं। प्रधानमंत्री जॉनसन संक्रमित हैं और इस समय अस्पताल के आइसीयू में हैं। उनके कई मंत्री भी कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। प्रधानमंत्री के दफ्तर ने बुधवार को कहा कि उनकी हालत स्थिर बनी हुई है और उनके स्वास्थ्य पर लगातार नजर रखी जा रही है।

कोरोना के बाद पैदा हुए हालात के बीच ही 39 वर्षीय सुनक को आम बजट के साथ ही कई अन्य आर्थिक फैसले पड़े हैं। लॉकडाउन के चलते आम लोगों के साथ ही व्यवसाइयों के लिए उन्होंने कई पैकेज की भी घोषणा की है। फिलहाल प्रधानमंत्री के डिप्टी के रूप में विदेश मंत्री राब काम कर रहे हैं। कोरोना को लेकर वही आपात बैठकों की अध्यक्षता करते हैं।

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस