यरुशलम, एपी। कोरोना वायरस लॉकडाउन के तहत लागू आपात प्रतिबंधों में ढील मिलते ही इजरायल में प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ प्रदर्शन तेज हो गए हैं। प्रधानमंत्री के सरकारी आवास के बाहर शनिवार रात हजारों इजरायलियों ने प्रदर्शन किया।

लॉकडाउन के तहत लागू आपात प्रतिबंधों के चलते प्रदर्शनों पर प्रतिबंध लगा था

वायरस के नए सिरे से फैलने के बाद पिछले महीने इजरायल ने नए लॉकडाउन उपाय लागू किए थे। इसके बाद प्रदर्शनों पर अंकुश लग गया था। आपात नियमों के कारण प्रदर्शन में भाग लेने के लिए यरुशलम यात्रा पर प्रतिबंध लग गया था। लोगों को अपने घर से केवल एक किलोमीटर के दायरे में ही छोटे प्रदर्शनों में भाग लेने की अनुमति दी गई थी।

प्रदर्शनकारी प्रधानमंत्री नेतन्याहू से कर रहे हैं इस्तीफे की मांग 

शनिवार रात प्रदर्शनकारी मध्य यरुशलम में जमा हुए और वहां से नेतन्याहू के सरकारी आवास की ओर बढ़े। बैनर थामे प्रदर्शनकारी प्रधानमंत्री से पद छोड़ने की मांग कर रहे थे और 'क्रांति' जैसे नारे लगा रहे थे। कई लोग हार्न और कई ड्रम बजा रहे थे। अन्य प्रदर्शनकारी इजरायली ध्वज लेकर चल रहे थे।

प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ देश भर में हुए प्रदर्शन

देश भर में कई छोटे-मोटे प्रदर्शन भी हुए हैं। आयोजकों ने देश भर में हुए प्रदर्शनों में दो लाख 60 हजार लोगों के भाग लेने का दावा किया है। प्रदर्शनकारी बेरोजगारी समेत अन्य मुद्दों को लेकर अपनी आवाज बुलंद कर रहे हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस