ब्यूनस आयर्स, एएफपी। जी-20 के नेताओं ने शुक्रवार को सालाना बैठक शुरू की। 10 साल पहले प्रथम शिखर सम्मेलन के बाद मतभेद के कारण समूह में ठहराव पैदा हो गया है। पूर्व में व्यापार और जलवायु परिवर्तन पर बनी सहमति को ध्वस्त करने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चौतरफा आलोचनाओं में घिरे हैं।

रूसी सेना द्वारा तीन यूक्रेनी पोत जब्त करने के बाद से रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन दबाव में हैं। उन्होंने प्रतिबंध और व्यापार संरक्षणवाद की निंदा की। यह हमला स्पष्ट रूप से ट्रंप पर किया गया था।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने ब्यूनस आयर्स में पुतिन के साथ अपनी निर्धारित बैठक भी टाल दी है। वित्तीय संकट की चपेट में रहने के दौरान नवंबर 2008 में जी-20 शक्तियों की पहली बैठक हुई थी। उसके बाद से स्थिरता को प्रोत्साहन मिला था।

पुतिन ने सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान के साथ अलग अंदाज में मुलाकात की। क्राउन प्रिंस का उन्होंने बिछड़ गए मित्र की तरह स्वागत किया।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस