नेपीथा, प्रेट्र। भारत ने मंगलवार को रखाइन राज्य में विस्थापित रोहिंग्या मुस्लिम अल्पसंख्यकों के लिए बनाए गए पहले 50 घरों को म्यांमार को सौंप दिया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उनके म्यांमारी समकक्ष यू विन मिंट के बीच यहां प्रतिनिधि स्तर की वार्ता के बाद यह घर सौंपे गए। म्यांमार के साथ हुए समझौते के मुताबिक भारत रखाइन प्रांत में रोहिंग्या मुसलमानों के लिए 250 मकान बनवा रहा है। राष्ट्रपति म्यांमार के तीन दिन के दौरे पर हैं। राष्ट्रपति भवन द्वारा जारी बयान में यह जानकारी दी गई है।

बयान के मुताबिक, दोनों पक्षों के बीच म्यांमार में न्यायाधीशों और न्यायिक अधिकारिकों की क्षमता निर्माण और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी में सहयोग के समझौतों पर हस्ताक्षर किए। कोविंद के दौरे के साथ ही म्यांमार ने भारतीय पर्यटकों के लिए वीजा ऑन अराइवल सुविधा की भी घोषणा की है।

भारत-म्यांमार संबंध

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा है कि भारत और म्यांमार की दोस्ती अल्पकालिक लक्ष्यों से संचालित नहीं है बल्कि इसमें परस्पर शांति, प्रगति एवं समृद्धि की सतत तलाश रहती है।

अपने सम्मान में राष्ट्रपति मिंट द्वारा आयोजित भोज में कोविंद ने कहा कि भारत, म्यांमार के साथ अपने संबंधों को विशेष प्राथमिकता देता है। म्यांमार, भारत की एक्ट ईस्ट और पड़ोसी पहले नीतियों के लिए एक मुख्य साझीदार है।

म्यांमार 'नेचुरल ब्रिज'

राष्ट्रपति कोविंद ने म्यांमार को भारत से दक्षिणपूर्व एशिया व आसियान देशों की ओर जाने के लिए 'नेचुरल ब्रिज' करार दिया।' कोविंद ने म्यांमार की विकास योजनाओं में भारत की भागीदारी पर गर्व जताते हुए म्यांमार से अधूरी परियोजनाओं को शीघ्र पूरा करने के लिए समर्थन भी मांगा। भारत, म्यांमार और थाईलैंड को जोड़ने वाला एक त्रिपक्षीय राजमार्ग फिलहाल निर्माणाधीन है।

आंग सान सू से कोविंद की मुलाकात

राष्ट्रपति कोविंद ने म्यांमार की स्टेट काउंसलर आंग सान सू की व दो अन्य नेताओं से भी मुलाकात की। राष्ट्रपति भवन में हुई इस मुलाकात के दौरान दोनों पक्षों के बीच विभिन्न द्विपक्षीय व बहुपक्षीय मुद्दों पर चर्चा हुई।

किसानों के लिए लांच किया मोबाइल एप्प

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने म्यांमार के किसानों के लिए एक मोबाइल एप्प भी लांच किया। उन्होंने कृषि अनुसंधान और शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए निर्मित एक बायो पार्क का भी उद्घाटन किया। 'ग्रीन वैली' नामक मोबाइल एप्प से किसानों फसलों और क्षेत्र के आधार पर खेती के बारे में जानकारी उपलब्ध होगी। इस एप्प से दो हजार से ज्यादा कृषि विशेषज्ञों से जुड़े हुए हैं।

म्यांमार के शहीदों को श्रद्धांजलि दी

राष्ट्रपति कोविंद म्यांमार के अपने तीन दिवसीय दौरे के दौरान बुधवार को यांगून भी गए और वहां म्यांमार के शहीदों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने स्टेट काउंसलर आंग सान सू की के पिता जनरल आंग सान की कब्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। आंग सान और उनके कई मंत्रियों की 19 जुलाई, 1947 को हत्या कर दी गई थी।

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप