नई दिल्‍ली [जागरण स्‍पेशल]। आपने सुना होगा कि पैसा कमाना कोई बच्चों का खेल नहीं है। मगर दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में छह साल की बोरम ने इस कथन को झूठा साबित कर दिया। यूट्यूब ने उन्हें इतना मालामाल कर दिया कि उन्होंने 55 करोड़ रुपये (80 लाख डॉलर) कीमत की पांच मंजिला इमारत खरीद डाली है। साल 1975 में शहर के मुख्य बाजार के इलाके में बनी यह इमारत 258 वर्गमीटर क्षेत्र में बनी है। इस इमारत का इस्तेमाल बोरम परिवार की कंपनी कर रही है। बोरम के यूट्यूब में तीन करोड़ से ज्यादा सब्सक्राइबर हैं।

खिलौनों की करती हैं समीक्षा
यूट्यूब पर बोरम के दो बड़े ही लोकप्रिय चैनल हैं। एक में वह खिलौनों की समीक्षा करती हैं और दूसरा वीडियो ब्लॉग है। पहले टॉय रिव्यू चैनल के 1.36 करोड़ सब्सक्राइबर हैं जबकि दूसरे चैनल वीडियो ब्लॉग के 1.76 करोड़ सब्सक्राइबर हैं। इस चैनल में बोरम अपने परिवार की रोजमर्रा जिंदगी के वीडियो अपलोड करती है। दोनों के कुल मिलाकर 3.12 करोड़ सब्सक्राइबर हैं। संयुक्त रूप से बोरम के दोनों यूट्यूब चैनल दक्षिण कोरिया के सबसे ज्यादा कमाई वाले यू ट्यूब चैनल भी बन गए हैं।

37.6 करोड़ बार देखा गया एक वीडियो 
बोरम के यूट्यूब चैनल दक्षिण कोरिया में सबसे ज्यादा लोकप्रिय हैं। बोरम के वीडियोज को लेकर भी कई दिलचस्‍प कहानियां हैं। उनका एक वीडियो तो इतना चर्चित हुआ था कि उसे लोगों ने 37.6 करोड़ बार देखा। इस वीडियो में वह प्लास्टिक के खिलौने की रसोई का इस्‍तेमाल करके नूडल्स बनाती दिख रही हैं। इसमें वह अचानक नूडल्स कैमरे पर गिरा देती हैं। एक वीडियो में तो उन्‍होंने यह भी बताया है कि वह किस तरह पिता के पर्स से पैसे चुराती हैं। बोरम के वीडियोज सामाजिक संगठनों के भी निशाने पर रहे हैं। 

जब वीडियो के कारण परेशानी में पड़ गए माता-पिता 
बोरम का एक विवादित वीडियो तो ऐसा सर्कुलेट हुआ कि उनके पैरेंट्स परेशानी में पड़ गए। दरअसल हुआ यूं कि बोरम ने कार चलाने की कोशिश का वीडियो अपलोड किया। चूंकि बच्‍चों द्वारा ड्राइविंग अपराध है इसलिए अदालत ने उनके माता-पिता को तलब करके बोरम की काउंसलिंग का आदेश दे दिया। साल 2017 में गैर-सरकारी संगठन 'सेव द चिल्ड्रन' को दक्षिण कोरियाई नागरिकों से शिकायतें मिलीं। शिकायत करने वाले लोग चिंतित थे कि चाइल्ड स्टार के YouTube वीडियो बच्‍चों के नैतिक और भावनात्मक विकास पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकते हैं।

कमाई के मामले में रियान काजी सबसे आगे 
फोर्ब्स के मुताबिक, अमेरिका के सात साल के रियान काजी यूट्यूब के जरिए कमाई करने के मामले में सबसे आगे हैं। रियान ने यूट्यूब से 152 करोड़ रुपये कमाए हैं। यू ट्यूब के जरिए किसी भी बच्चे की यह सबसे ज्यादा कमाई है। यूट्यूब पर कमाई के मामले में रियान ने 21 वर्षीय जेक पॉल को पीछे करते हुए नंबर वन की श्रेणी प्राप्‍त की है। उनके चैनल में कुल 17,298,646 ग्राहक हैं। रियान के चैनल के 2.08 करोड़ सब्सक्राइबर हैं जबकि सात करोड़ 25 लाख फॉलोवर हैं। यूट्यूब पर खिलौनों का रिव्यू करने वाले रियान ने 2018 में अकेले दो करोड़, 20 लाख डालर कमाए थे। साल 2017 में  यह सात वर्षीय बच्‍चा आठवें स्‍थान पर था। मेकअप कलाकार जेफ्री स्टार और स्वीडिश गेमर फेलिक्स केजेलबर्ग की तुलना में रियान ने साल 2018 में अधिक पैसे कमाए।  

ये भी हैं बड़े यूट्यूबर खिलाड़ी
स्‍वीडन निवासी फ़िलिक्स केजेलबर्ग यूट्यूब पर एक बड़े खिलाड़ी हैं। उनका चर्चित प्रोगाम स्कैंडल के सात करोड़ 20 लाख अनुयायी है। लेकिन एक वीडियो के चलते गूगल ने उनके प्रोगाम को बंद कर दिया। इसके बावजूद उनके विज्ञापनदाता निराश नहीं हुए। उन्‍होंने स्‍कैंडल का साथ नहीं छोड़ा। वह इससे करोड़ों रुपये कमा रहे हैं। इसके अलावा आयरलैंड निवासी सेन मैकलोफ्लिन भी यूट्यूब पर काफी लोकप्रिय हैं। उसके रंगीन वीडियो गेम पर उनकी कमेंट्री लोगों को बहुत रास आती है। उन्‍होंने डिज्नी के लिए एक श्रृंखला भी जारी की है। यही नहीं पांच लोगों का सम्‍मलित स्पोर्ट्स क्रू भी यूट्यूब पर छाया हुआ है। इसमें कोबी, कॉरी कपास, गेटेट हिल्बर्ट, कोडी जोन्स और टायलर टोनी प्रमुख हैं। 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप