ओस्लो, रायटर। किसी देश के प्रधानमंत्री पर पुलिस द्वारा जुर्माना लगाया जाना शायद ही आपने पहली बार या फिर ऐसा कम ही सुनने को मिलता होगा। हालांकि, ऐसा हुआ है। नॉर्वे में ऐसा हुआ है। नॉर्वे यूरोप महाद्वीप में स्थित एक देश है। यहां की प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग पर जुर्माना लगाया है। नॉर्वेजियन पुलिस ने शुक्रवार को कहा कि पीएम ने अपने जन्मदिन का जश्न मनाने के लिए परिवार को इकट्ठा करके एक आयोजन किया, जिसमें उन्होंने कोविड -19 के दिशानिर्देशों का पालन नहीं किया। बताया गया कि वहां शारीरिक दूरी नहीं थी। इस कारण उनको जुर्माना लगाया गया है।

पुलिस प्रमुख ओले सेवेरुड ने मीडिया से बातचीत में बताया कि यह जुर्माना 20,000 नॉर्वेजियन क्राउन (एक लाख 70,000 से ऊपर) का है। देश में प्रधानमंत्री के रूप में मिले दूसरे कार्यकाल को चला रही सोलबर्ग ने पिछले महीने फरवरी के अंत में एक रिजॉर्ट में 13 परिवार के सदस्यों के साथ अपना 60 वां जन्मदिन मनाने के लिए एक कार्यक्रम आयोजित करने के लिए माफी मांगी। बता दें कि महज तीन लोग फालतू थे, यानी 10 से अधिक लोगों द्वारा भाग लेने पर मनाही है और जुटे थे 13, इसके लिए पीएम पर जुर्माना लगा दिया गया।

हालांकि, पुलिस ने कहा कि इस तरह के ज्यादातर मामलों में पुलिस जुर्माना नहीं लगाती, लेकिन प्रधान मंत्री देश का बड़ा चेहरा होता है, जिनके द्वारा खुद प्रतिबंध लगाने की घोषणा की गई थी। सेवेरुड ने आगे कहा, कानून सभी के लिए समान है। उन्होंने जुर्माना को सही ठहराया। कहा कि लोगों को दिखाना पड़ेगा कि शारीरिक दूरी जरूरी है और इसके लिए जुर्माना लगाया जा सकता है।

Edited By: Nitin Arora