काबुल, एएफपी। दुनियाभर के देश कोरोना वायरस के संक्रमण से परेशान है। दुनिया के अधिकतर देशों में लॉकडाउन लागू है और शारीरिक दूरी के नियम का पालन करने के लिए कहा जा रहा है मगर अधिकतर देशों में इसको नहीं माना जा रहा है। वहां शारीरिक दूरी के नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है। ये देखने में आया है कि कहीं वीआइपी लोग शारीरिक दूरी के नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं तो कहीं कोई बाजारों में जाकर खरीदारी करने के दौरान इनको नहीं मान रहा है। 

एएफपी न्यूज एजेंसी के अनुसार कुछ दिनों के बाद ईद का त्यौहार है ऐसे में मुस्लिम बाहुल्य देशों में इन दिनों जमकर खरीदारी की जा रही है। ऐसे में वहां के बाजारों में शारीरिक दूरी के नियम का कोई पालन नहीं दिख रहा है। बुधवार को राजधानी काबूल के एक बाजार से ऐसा ही एक वीडियो देखने को मिला जिसमें वहां की एक स्थानीय बाजार में लोग खरीदारी करते नजर आए। बाजार भी पूरी तरह से सजे हुए हैं और महिलाएं और पुरूष वहां खरीदारी कर रहे हैं।

ये आलम तब है जब अफगानिस्तान में अब तक कोविड-19 के 7 हजार मामले सामने आ चुके हैं और इस बीमारी से 170 लोगों की मौत भी हो चुकी है, उसके बावजूद बाजारों में शारीरिक दूरी के नियम का पालन करता कोई नहीं दिखता है। 

उधर रूस में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3 लाख का आंकड़ा पार कर चुकी है जबकि मरने वालों की संख्या 2 हजार से ऊपर पहुंच गई है। नेशनल कोरोना वायरस रेस्पोंस सेंटर की तरफ से बताया गया है कि देश में 24 घंटों में कोरोना के 8 हजार 5 सौ नए मामलों की पुष्टि की गई है। नेशनल रेस्पोंस सेंटर ने बुधवार को इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि देश में 8,500 नए मामलों के साथ रूस में संक्रमितों की संख्या तीन लाख से ऊपर पहुंच चुकी है।

बता दें कि रूस दुनियाभर में कोरोना वायरस से प्रभावित होने वाला दूसरा देश है। यहां अभी तक 3 लाख 8 हजार 7 सौ 5 लोगों में संक्रमण की पुष्टि की जा चुकी है। पहले नंबर पर अमेरिका है जहां संक्रमितों का आंकड़ा 15 लाख से ज्यादा है। यहां मरने वालों की संख्या 90 हजार को पार कर चुकी है।  

Posted By: Vinay Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस