तेहरान (एएनआइ)। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल बुधवार को ईरान में आतंकवाद के खिलाफ क्षेत्रीय रणनीति तैयार करने के लिए आयोजित बैठक में शामिल हुए। इस बैठक में अफगानिस्तान, चीन, ईरान और रूस के उच्च स्तरीय अधिकारी भी मौजूद रहे। इन सबने आइएस समेत अन्य आतंकी संगठनों के खतरे से निपटने के लिए रणनीति पर विचार किया।

विदेश मंत्रालय ने बुधवार को एक बयान जारी करके बताया कि बैठक में डोभाल ने सीमा पार से आतंकियों की घुसपैठ, उनको वित्तीय मदद और हथियारों की आपूर्ति रोकने का मुद्दा उठाया। उन्होंने आतंकवाद का पोषण करने वालों व उनके समर्थकों को भी अलग-थलग करने के तरीकों पर विचार किया।

उन्होंने जोर देकर यह भी कहा कि अच्छे और बुरे आतंकवाद का फर्क किया जाना भी बंद होना चाहिए। इस समस्या से निपटने के लिए क्षेत्र के प्रमुख देशों को आपसी सहयोग बढ़ाना होगा। बैठक में इन सभी देशों के अफसरों ने आपस में आतंकवाद के खिलाफ विचारों का आदान-प्रदान किया।

बैठक में आइएस समेत सभी आतंकी संगठनों से मुकाबले पर रणनीति बनाने की बात हुई। ताकि क्षेत्रीय और वैश्विक शांति के साथ ही सुरक्षा और स्थिरता भी मिले। इस यात्रा के दौरान एनएसए डोभाल ने आतंकवाद के मुद्दे पर ईरान, रूस और अफगानिस्तान के प्रतिपक्षियों के साथ द्विपक्षीय वार्ता भी की।

Posted By: Nancy Bajpai

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस