प्योंगयांग, एफपी। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने रविवार को यहां खुद आगे बढ़कर चीन के शीर्ष अधिकारी सांग ताओ का स्वागत किया। सांग चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के विदेश मामलों के प्रमुख हैं। वह वसंत महोत्सव में हिस्सा लेने के लिए यहां आए हैं। उनके साथ कलाकारों का एक दल भी इस महोत्सव के लिए उत्तर कोरिया आया है।

आगामी कुछ हफ्तों में दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से किम की ऐतिहासिक मुलाकात होनी है। ऐसे में इस विशेष प्रतिनिधिमंडल का उत्तर कोरिया का दौरा और अहम हो जाता है। कुछ दिन पहले ही किम चीन का दौरा करके लौटे हैं।

उत्तर कोरिया की न्यूज एजेंसी केसीएनए के मुताबिक, किम और सांग ने वैश्विक हालात सहित आपसी चिंता के महत्वपूर्ण मामलों पर गहराई से विचार विमर्श किया। बाद में किम ने कहा, 'नए दौर में वह चीन के साथ अपने मैत्री संबंधों को नए तरीके से विकसित करेंगे।' सांग ने भी द्विपक्षीय रिश्तों को मजबूत करने की बात दोहराई। कोरियाई युद्ध (1950-53) के बाद से चीन उत्तर कोरिया का अहम सहयोगी है।

By Tilak Raj