बर्मा, एएनआइ। म्यांमार सेना ने पांच हजारसे ज्यादा लोगों को मुक्त करने की घोषणा की है। सेना ने सोमवार को एलान करते हुए कहा कि तख्तापलट का विरोध करने के लिए गिरफ्तार किए गए पांच हजार से अधिक लोगों को मुक्त किया जाएगा। 20 अक्टूबर को होने वाले थडिंग्युट त्योहार के मौके पर विरोधियों को मुक्त किया जाएगा।

दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों के संगठन (ASEAN) की 26-28 अक्टूबर के बीच होने वाले एक सम्मेलन से निकाले जाने के बाद जुंटा प्रमुख ने सोमवार को कहा कि वे शांति और लोकतंत्र के लिए प्रतिबद्ध हैं। वीओए की रिपोर्ट के अनुसार, म्यांमार के जुंटा मिन आंग हलिंग के प्रमुख ने एक राष्ट्रव्यापी टेलीविजन भाषण के दौरान यह घोषणा की।

वीओए ने समाचार एजेंसियों का हवाला देते हुए कहा, ' आतंकवादी समूहों के उकसावे के कारण अधिक हिंसा हुई। मिन आंग हलिंग ने एक भाषण में कहा, जहां वह नागरिक पोशाक में दिखाई दिए।' उन्होंने कहा, 'किसी को भी उनकी हिंसा की परवाह नहीं है, और केवल यह मांग कर रहे हैं कि हम इस मुद्दे को हल करें। आसियान को इस पर काम करना चाहिए।'

एक फरवरी को हुए तख्तापलट का नेतृत्व करने वाले मिन आंग हलिंग ने कहा कि म्यांमार में लोकतंत्र बहाल करने के लिए उनकी सरकार का एक पांच-स्तरीय कार्यक्रम है। वहीं आसियान देश से एक गैर-राजनीतिक प्रतिनिधि को आमंत्रित कर रहा है। बता दें कि शनिवार को म्यांमार की सैन्य सरकार ने भी अपने नेता मिन आंग ह्लाइंग के आगामी आसियान शिखर सम्मेलन से बाहर किए जाने पर निराशा व्यक्त की थी।

Edited By: Pooja Singh