सियोल, रॉयटर्स। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के चलती मची तबाही के बीच कई देशों ने अपने यहां लॉकडाउन में ढील दी है।अब पहली बार कोरोना संकट के बीच दक्षिण कोरिया में बुधवार को हाई स्कूल खोला गया है। स्कूल में नॉवेल कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए कक्षा में सभी बच्चे मास्क पहने हुए नजर आए।

देश में सभी स्कूलों को फिर खोलने के तहत सख्त प्रोटोकॉल के साथ स्कूल खोले गए हैं। बता दें कि चीन बाहर फैले वायरस से लड़ रहे दक्षिण कोरिया देश ने अपने यहां पक वसंत में पड़ने वाले छात्रों की सेमेस्टर परीक्षा मार्च से कई बार स्थागित की थी। कई देशों ने अपने यहां पर छात्रों के लिए ऑनलाइन कक्षाएं आयोजित की हैं।

सियोल मेट्रोपॉलिटन ऑफ़िस ऑफ़ एजुकेशन के अधीक्षक चो ही-योन(Cho Hee-yeon,superintendent of Seoul Metropolitan Office of Education) ने हाई स्कूल के सभी छात्रों के परिसर में कहा कि पिछले तीन महीने से आप सभी छात्रों का स्कूल इतंजार कर रहा था। साथ ही आगे कहा कि अब हम दो महत्वपूर्ण चरण में प्रवेश कर गए हैं। पहला शिक्षा और दूसरा कोरोना से लड़ाई करने के लिए हमको तैयार रहना होगा। 

इसके आगे उन्होंने कहा कुछ छात्र अपने दोस्तों के गले में हाथ डालते हुए नजर आए हैं लेकिन सभी टीचर्स को बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए आदेश देने होंगे। स्कूलों को मोटरसाइकिल पर निजी स्वच्छता ठेकेदारों ने कीटाणुनाशक का छिड़काव किया।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नई हेल्थ दिशा-निर्देश के मुताबिक, सभी टीचर्स को खाना खाने के समय मास्क पहनना होगा। इसके साथ क्लासरुम में सभी खिड़कियां खोली जाएंगी। इसके साथ ही एक डेस्ट से तीन एक मीटर की दूरी बनाई रखनी होगी।

देश में स्कूलों को खोलने की क्रिया हाई स्कूल के सीनियर्स के साथ की गई है। बाकी सभी स्कूलों को दोबारा से दूसरी स्टेज के दौरान खोला जाएगा। इसमें 20 मई से 1 जून तक 5.5 मिलियन एलिमेंटरी, मिडिल और हाई स्कूल खोले जाएंगे। 

Posted By: Pooja Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस